Zoologist kaise bane/ How to become a zoologist ?

Zoologist kaise bane

नमास्कार! दोस्तों स्वागत है आप का इस लेख में आज के इस लेख में हम जानने वाले है, Zoologist kaise bane ऐसे बहुत से स्टुडेंट है, जो प्रकृति में मौजूद विभिन्न तरह के प्राणियों के बारे में गहराई से जानने की इच्छा रखते हैं। ऐसे स्टुडेंट जूलॉजी में अपना करियर देख सकते हैं।

इस लेख में Zoologist kaise bane के तहत What is Zoology/ जूलॉजिस्ट क्या है, How to become a Zoologist/ जूलॉजिस्ट कैसे बनें, Education qualification, career scope, best Institute and university, salary,  आदि के बारे में जानेगें।

Zoologist kaise bane

अमूमन सभी को किसी ना किसी जानवर से प्यार जरूर होता है। घर में एक छोटा सा पक्षी या जानवर रखना आज कल सभी को बहुत भाता है। ज्यादातर लोग चाहते है कि घर में एक छोटा सा फ्रेंडली जानवर जरूर साथ रहे। लेकिन इन फ्रेंडली और अनफ्रेंडली जानवरों के सही से देखभाल करने के लिए एक डॉक्टर की जरूरत हमेशा पड़ती है जिसे आप सभी जूलॉजिस्ट कहते हैं।

अगर आप भी अपने करियर में एक बेहतर जूलॉजिस्ट बनना चाहते है तो पशुओं से जुड़ी सभी जानकारी होना जरूरी है। अगर आपका लगाव जीव-जंतु और पशु-पक्षियों से हैं तो आप जूलॉजिस्ट बना अपना करियर संवार कर सकते है।

एक अच्छा और बेहतरीन जूलॉजिस्ट बनाने के लिए आपको इससे जुडु तमाम पक्रियाओं जैसे उसके रहने, खाने-पीने, उसका विकास आदि पर आपको अच्छी नॉलेज होनी जरूरी है। जिससे कई इसमें जाने के लिए कोर्स करके सफल जूलॉजिस्ट बन सकते है। इस लेख में आगे इसमें करियर कैसे बनाएं इससे जुड़ी जानकारी दे रहे है।

जूलॉजिस्ट क्या है /what is Zoologist?

जूलॉजी में स्टडी करने वाले कैंडिडेट के लिए जूलॉजिस्ट एक रोमांचक करियर है। एक जूलॉजिस्ट प्रोफेशनल है जो विभिन्न प्रकार की जानवरों की प्रजातियों (animal species), उनके व्यवहार (Behavior), विशेषताओं और (Characteristics & development ) विकास के बारे में स्टडी करता है। वे जानवरों के साम्राज्य के जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने, उन्हें संरक्षित करने और किसी भी तरह के खतरे से बचाने के लिए जिम्मेदार हैं।

एक जूलॉजिस्ट के पास नौकरी के रोल में कई करियर प्रोफाइल की एक विस्तृत श्रृंखला होती है और वे अपनी इटेस्टस्ट और स्किल के अनुसार विभिन्न क्षेत्रों में काम कर सकते हैं। वे जानवरों से जुड़े विभिन्न पहलुओं में लेबोरेटरी और रिसर्च सेन्टर में साइन्टिंस्ट के साथ मिल कर में रिसर्च और प्रयोग भी करते हैं।

Zoologist kaise bane/ How to become a zoologist ?

ऐसे स्टुडेंट जो छात्र 12वीं के बाद जूलॉजिस्ट Zoologist kaise bane बनना चाहते हैं उन्हें 12वीं में साइन्स, मेंथ, केसिस्ट्री जैसे विषय में पढ़ाई करना होगी। इसके बाद में कोर्स में यूजी कोर्स, पीजी कोर्स, और पीएच़डी कर सकते है। चलिए आइए बात करते है कि कोर्स, योग्यता आदि के बारे में..

UG Course:– जूलॉजी में बीएससी या समकक्ष में प्रवेश के लिए न्यूनतम पात्रता साइंस स्ट्रीम में कक्षा 12 पास है। कैडिडेट ने 12वीं में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान का अध्ययन किया होगा।

  • B.Sc. (Hons.) in Zoology
  • B.Sc – Zoology (B.Sc Zoology)

PG Course – कैडिडेट को जूलॉजी में बीएससी / बीएससी (ऑनर्स) में पास होना चाहिए। जिन कैडिडेट ने चिकित्सा और संबद्ध चिकित्सा विज्ञान / जीव विज्ञान / जीवन विज्ञान में बीएससी / बीए पास किया है, वे भी आवेदन करने के पात्र हैं।

  • B.Sc in Zoology

Ph.d Course:- पीजी  में 55% (एससी / एसटी उम्मीदवारों के लिए 50%) के साथ स्नातकोत्तर।

  • Ph.d in Zoology

Top Entrance Exams for Zoology Courses

जूलॉजी में बीएससी कोर्स के लिए प्रवेश यूनिवर्सिटी या कॉलेज द्वारा जारी कटऑफ सूची पर आधारित है। कुछ यूनिवर्सिटी प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा भी आयोजित करते हैं। कैंडिडेट को प्रवेश परीक्षा के आधार पर एमएससी कोर्स में प्रवेश की पेशकश की जाती है।

पीएच.डी. में प्रवेश कार्यक्रम राष्ट्रीय स्तर पर या यूनिवर्सिटी द्वारा अलग से व्यक्तिगत साक्षात्कार के बाद आयोजित प्रवेश परीक्षाओं के आधार पर किया जाता है। कुछ लोकप्रिय पीएच.डी. प्रवेश परीक्षाएं यूजीसी नेट, सीएसआईआर, आईसीएआर, (UGC NET, CSIR, ICAR,) आदि हैं।

यह भी पढ़े:-

What is neo bank/Neo bank kya hai

Election analyst kaise bane/How to become election analyst?

Astrobiology me career/How to make career in Astrobiology?

स्टॉकब्रोकर क्या है/ Stock broker kaise bane?Museology क्या है?

Museology Me Career Kaise Banaye?

 Career profile

जूलॉजी (Zoologist kaise bane)में अतर्गत आप को कई करियर प्रोफाइल मिलते है जिसमें आप का इंटरेस्ट हो उसमें जा सकते है।

पशु नियंत्रण अधिकारी/Animal Control Officer:- एक पशु नियंत्रण अधिकारी जानवरों के लिए खतरे और खतरे की जांच करने और पशु क्रूरता से जुड़े मामलों की जांच करने के लिए जिम्मेदार है। वे यह सुनिश्चित करते हैं कि किसी क्षेत्र में जानवरों के लिए परिभाषित कानूनों, नियमों और विनियमों को बनाए रखा जाए।

वे फंसे हुए जानवरों को बचाते हैं और आवारा जानवरों की देखभाल करते हैं। वे जानवरों की सुरक्षा के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए जनता के साथ बातचीत करते हैं।

कीट विज्ञानी /Entomologists:- कई प्राणी विज्ञानी विशिष्ट प्रजातियों के बारे में अध्ययन करते हैं और ऐसी ही एक नौकरी की भूमिका कीड़ों का अध्ययन है। पेशेवर जो कीड़ों और उसकी विशेषताओं का अध्ययन करते हैं उन्हें कीटविज्ञानी कहा जाता है। वे प्रयोग करने और कीड़ों की रासायनिक और शारीरिक संरचना को समझने के लिए जिम्मेदार हैं।

वे कुछ उत्पादों और वस्तुओं के उत्पादन के लिए प्रयोगों और उद्योग में उनके अनुप्रयोगों में कीड़ों की विभिन्न प्रजातियों के महत्व का विश्लेषण करते हैं।

समुद्री जीवविज्ञानी/ Marine biologists:- समुद्री जीवविज्ञानी समुद्र के भीतर मौजूद जानवरों का अध्ययन करते हैं। एक समुद्री जीवविज्ञानी के रूप में एक पेशेवर समुद्री पशु जीवन और उनकी विशेषताओं का अध्ययन करने के लिए जिम्मेदार है।

वे सूक्ष्म और सूक्ष्मजीवों का पता लगाने के लिए प्रयोगशालाओं में प्रयोग और अनुसंधान करते हैं। इसका उद्देश्य समुद्री जानवरों और समुद्री प्रजातियों पर पर्यावरण के प्रभावों की रक्षा और प्रबंधन करना है।

पशु वैज्ञानिक/ Animal Scientist:- एक पशु वैज्ञानिक वह व्यक्ति होता है जो पशु जीवन की गुणवत्ता, पशु पोषण और पशु शरीर में रासायनिक और जैविक प्रक्रियाओं से संबंधित अनुसंधान और प्रयोग करता है।

प्राणी विज्ञान या पीएचडी में मास्टर डिग्री वाले उम्मीदवार को आमतौर पर एक पशु वैज्ञानिक के रूप में नौकरी के लिए माना जाता है। वह अनुसंधान और विकास क्षेत्र में काम करता है और अपने ज्ञान और कौशल का उपयोग जानवरों के साम्राज्य से जुड़े प्रयोगों को करने के लिए करता है।

पशु जीवविज्ञानी/ Animal Biologist:- एक पशु जीवविज्ञानी पशु शरीर क्रिया विज्ञान का अध्ययन करता है और एक विशेष प्रकार के जानवरों से जुड़े रोगों के प्रकार और उन पर जलवायु परिस्थितियों के प्रभाव का विश्लेषण करता है। वे प्रयोग करने, डेटा एकत्र करने और समाधान सुझाने के लिए जिम्मेदार हैं।
एक पशु जीवविज्ञानी प्रयोगशालाओं या अनुसंधान केंद्रों में वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं की एक टीम के साथ काम करता है।

इसके अलावा जूलॉजी में कोर्स कर चुके कैडिडे़ट इन पदों पर काम कर सकते है।

  • इंवायरन्मेंटल कंसल्टेंट और कंजर्वेशनिस्ट
  •  जर्नलिस्ट.
  •  बायोलॉजिकल लैबोरेट्री टेक्निशियन या जू कीपर.
  • शिक्षक और शोधार्थी.
  •  वाइल्डलाइफ एजुकेटर और रीहैब्लिटेटर.

Employment Sector or Industry for Zoologist

विभिन्न क्षेत्रों में जूलॉजिस्ट की जरूरत है। कुछ क्षेत्र जहां प्राणी विज्ञानी को रोजगार मिल सकता है, वे इस प्रकार हैं:

  • वन विभाग/Forest Department
  • समुद्री उद्योग/Marine industry
  • पशु चिकित्सा उत्पाद निर्माण उद्योग/Veterinary product Manufacturing Industry
  • शिक्षा क्षेत्र/Education Sector
  • अनुसंधान और विकास (आर एंड डी)/ Research and Development (R&D)

Top Recruiting Companies/ Agencies/ Organizations

भारत में टॉप रिसर्च ऑरेगेनाइजेशन और सरकारी क्षेत्र विभिन्न जॉब प्रोफाइल के लिए जूलॉजिस्ट को काम पर रखते हैं।   आइए जानते है टॉप रिसर्च ऑरेगेनाइजेशन के बारे में..

  • पर्यावरण और वन मंत्रालय /Ministry of Environment and Forests
  • राज्य का वन विभाग/ Forest Department of State
  • केंद्रीय समुद्री मात्स्यिकी अनुसंधान संस्थान (सीएमएफआरआई)/ Central Marine Fisheries Research Institute (CMFRI)
  • केंद्रीय अंतर्देशीय मत्स्य अनुसंधान संस्थान (सीआईएफआरआई)/ Central Inland Fisheries Research Institute (CIFRI)
  • भारतीय प्राणी सर्वेक्षण (जेडएसआई) /Zoological Survey Of India (ZSI)
  • भारतीय विज्ञान शिक्षा और अनुसंधान संस्थान (आईआईएसईआर)/ Indian Institutes of Science Education and Research (IISER)

Required Skills

जूलॉजिस्ट को अपने कर्तव्यों का पालन करने के लिए निम्नलिखित लक्षणों की आवश्यकता होती है:

  • Communication skills:- जूलॉजिस्ट को प्रभावी शोध पत्र और रिपोर्ट लिखने में सक्षम होना चाहिए। उन्हें जनता, नीति निर्माताओं और अन्य हितधारकों के साथ मौखिक और लिखित रूप से संवाद करने की भी आवश्यकता है।
  • Observation skills:– किसी जानवर के व्यवहार या उपस्थिति में मामूली बदलावों को नोटिस करना और जानवरों के परिवेश में विभिन्न प्रकार के तत्वों का निरीक्षण करना महत्वपूर्ण है।
  • Critical-thinking skills: जूलॉजिस्ट को प्रयोगों, शोध परिणामों और वैज्ञानिक टिप्पणियों से निष्कर्ष निकालने में सक्षम होना चाहिए।
  • Problem-solving abilities: जानवरों और वन्यजीवों को संभावित खतरों से बचाने में मदद करने के लिए प्राणीविदों को समाधान खोजना चाहिए।
  • Comfort with technology: तकनीकी जानकार होना एक प्लस है क्योंकि प्राणी विज्ञानी अक्सर अपनी शोध गतिविधियों के दौरान अत्यधिक विशिष्ट वैज्ञानिक उपकरण और डेटा प्रबंधन सॉफ़्टवेयर का उपयोग करते हैं।

Top Colleges and university

  •  बीयू भोपाल, भोपाल/BU Bhopal,Bhopal
  • एसआरएम विश्वविद्यालय, अमरावती/ SRM University,Amaravati
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी/Banaras Hindu University, Varanasi
  • महाराजा सयाजीराव विश्वविद्यालय बड़ौदा, वडोदरा/Maharaja Sayajirao University of Baroda, Vadodara
  • लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी, फगवाड़ा/Lovely Professional University, Phagwara/
  • टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च, मुंबई/ Tata Institute of Fundamental Research,Mumbai
  • भारतीय विज्ञान शिक्षा और अनुसंधान संस्थान, पुणे/Indian Institute of Science Education and Research,Pune
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज, मुंबई/ St. Xaviers College,Mumbai
  • भारतीय विज्ञान शिक्षा और अनुसंधान संस्थान, खड़गपुर/ Indian Institute of Science Education and Research,Kharagpur

 

Top Zoology Institutes in the World

  • Harvard University US
  • University of Cambridge UK
  • University of Oxford UK
  • Massachusetts Institute of Technology (MIT) US
  • Stanford University US
  • University of California, Berkeley US
  • National University of Singapore Singapore
  • Yale University US
  • University of California, Los Angeles US
  • Imperial College London UK
  • Kyoto University Japan
  • California Institute of Technology US

salary

एक जूलॉजिस्ट (Zoologist kaise bane) की सैलरी शैक्षिक योग्यता, कार्य अनुभव के वर्षों और जॉब प्रोफाइल के प्रकार जैसे विभिन्न फैक्टर पर निर्भर करता है। एक प्राणी विज्ञानी का न्यूनतम औसत वेतन 4.00 लाख रुपए का सालाना पैकेज मिल सकता है। कुछ अनुभव के वर्षों होने के बाद में कैडिडेट के सैलरी में इजाफा होता है।

Career Pedia को उम्मीद है कि इस पोस्ट में दी गई  जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके कोई भी सवाल, सुझाव या इस लेख में कोई त्रुटि रह गई है तो हमे कॉमेंट और Email कर सकते हैं। हमारे You Tube Channel, Facebook page Linkdin page, Instragram और  Telegram channel पर जुड़ सकते है। वहां से करियर जानकारी के पोस्ट व वीडियों के लेटेस्ट नोटिफिकेशन पा सकते है। धन्यवाद !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *