UGC Fake University List 2022: इन 21 फर्जी यूनिवर्सिटीज से रहें सावधान, देखें UGC ने जारी की लिस्ट

UGC Fake University List 2022: हर साल लाखों स्टुडेंट 12th पास करते हैं और देश के विभिन्न कॉलेज, विश्वविद्यायलों में दाखिला लेते हैं। जिससे आगे की पढ़ाई की जाए। जॉव्स, बिजनेस या हॉयर एजुकेशन के में बढ़ा जाए है। वही जब कॉलेज, विश्वविद्यायलों में दाखिला लेते हैं तब बड़ी सोच समझ के फैसला करते हैं। क्योकि आजकल के पढ़ाई में आज के खूब पैसा और समय तो खर्च तो होता है। अगर गलती से स्टूडेंट फर्जी के कॉलेज, विश्वविद्यायलों में एडमिशन ले लेता हैं तो समय और पैसा दोनों की बर्बाद होता है। कई बार में ऐसा देखा जाता है कि अच्छे प्लेसमेंट, कम फीस या नामी संस्थान में एमिडिशन ना होने के वजह से स्टूडेंट ऐसे झासें में आ जाते हैं और फर्जी विश्वविद्यालय में दाखिला ले लेतें हैं। जिससे स्टूडेंट का करियर बर्बाद हो जाता है।

UGC Fake University List 2022

ऐसे में सबसे जरुरी बात यह है कि इन फर्जी कॉलेज, विश्वविद्यायलों को कैसे जानें तो इसके लिए समय-समय पर विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानि (UGC) फर्जी कॉलेज, विश्वविद्यायलों के बारे लिस्ट जारी करता है जिससे माता -पिता और स्टूडेंट के बीच में  अवरनेस हो और इन फर्जी कॉलेज, विश्वविद्यायलों से अलर्ट रहें है।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने हाल ही में 21 फर्जी विश्वविद्यालयों की लिस्ट जारी की है। इनमें से आठ विश्वविद्यालय दिल्ली के और चार उत्तर प्रदेश के हैं। इसके अलावा पश्चिम बंगाल और ओडिशा में दो-दो फर्जी विश्वविद्यालय हैं, जबकि कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश में एक-एक है। बता दें कि पिछले साल भी UGC ने 21 विश्वविद्यालयों को फर्जी पाया था, जहां नियमों को ताक पर रख कर छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा था।

UGC ने बताया कि उसे लगातार शिकायतें मिल रहीं थी। जांच करने पर पता चला कि यहां नियमों के खिलाफ कई कोर्स चलाए जा रहे हैं। UGC ने स्टूडेंट्स के लिए अलर्ट जारी किया है। UGC ने कहा, “बाइबल ओपन यूनिवर्सिटी ऑफ इंडिया रजिस्टर्ड नहीं है, उसमें दाखिला न लें। विश्वविद्यालय ने UGC अधिनियम 1956 का उल्लंघन करते हुए कई डिग्री कोर्स करा रही है। ऐसे में यहां से कोर्स करना करियर के लिए नुकसान साबित हो सकता है।”

UGC का कहना है कि  UGC अधिनियम के उल्लंघन में काम कर रहे कम से कम 21 झूठी और गैर-मान्यता प्राप्त संस्थाए जो स्वंभू अपने आप को विश्वविद्यालय घोषित किए हुए है। इन्हें कोई डिग्री प्रदान करने का अधिकार नहीं है। अगर आप ने यहां पर एडिमिशन लिया और पढ़ाई की तो डिग्री की कोई महत्व नही जिससे आप को सावधान हो जाना चाहिए इन फर्जी विश्वविद्यालय से बचे रहें।

देखें UGC ने जारी की 21 फर्जी यूनिवर्सिटीज की लिस्ट

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानि UGC समय-समय पर ऐसी फर्जी विश्वविद्यालयों को चिन्हित करने का करता है, और लिस्ट जारी की जाती है। कौन से वे फर्जी विश्वविद्यालयों हैं इनके बारे में आप को बताते हैं

ये हैं  उत्तर प्रदेश के फर्जी विश्वविद्यालयों के नाम

उत्तर प्रदेश में चार फर्जी विश्वविद्यालयों के नाम- गांधी हिंदी विद्यापीठ, नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ इलेक्ट्रो कॉम्प्लेक्स होम्योपैथी, नेताजी सुभाष चंद्र बोस विश्वविद्यालय और भारतीय शिक्षा परिषद।

ये हैं दिल्ली के फर्जी विश्वविद्यालयों के नाम

दिल्ली में जारी आठ फर्जी विश्वविद्यालय के नाम ये हैं।अखिल भारतीय सार्वजनिक और शारीरिक स्वास्थ्य विज्ञान संस्थान, कमर्शियल यूनिवर्सिटी लिमिटेड दरियागंज, संयुक्त राष्ट्र विश्वविद्यालय, व्यावसायिक विश्वविद्यालय, ADR केंद्रित न्यायिक विश्वविद्यालय, भारतीय विज्ञान और इंजीनियरिंग संस्थान, स्वरोजगार के लिए विश्वकर्मा मुक्त विश्वविद्यालय और आध्यात्मिक विश्वविद्यालय।

अन्य राज्य के फर्जी विश्वविद्यालयों के नाम

  • कर्नाटक में फर्जी विश्वविद्यालय बड़ागानवी सरकार वर्ल्ड ओपन यूनिवर्सिटी एजुकेशन सोसाइटी है।
  • पश्चिम बंगाल में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ ऑल्टनेरिटव मेडिसन और इंस्टीट्यूट ऑफ ऑल्टरनेटिव मेडिसन एंड रिसर्च, दोनों विश्वविद्यालय का नाम शामिल है।
  • केरल में सेंट जॉन यूनिवर्सिटी कृष्णाटम् और महाराष्ट्र में राजा अरेबिक यूनिवर्सिटी फर्जी विश्वविद्यालय की लिस्ट में शामिल हैं।
  • इसके अलावा UGC ने पुडुचेरी, आंध्र प्रदेश और ओडिशा में भी फर्जी विश्वविद्यालय होने की जानकारी दी है।

Leave a Comment