Stock Broker Kaise Bane /How to Become a Stock Broker?

Stock Broker Kaise Bane:- शेयर, ट्रेडिंग, सेंसेक्स, निफ्टी, बीएसई, बुल मार्केट, बियर मार्केट, खरीद, बिक्री, बोली लगाना, आईपीओ, लाभांश, विनिमय, शेयर बाजार, स्टॉकब्रोकर जैसे शब्द क्या आप के दिमाग में चल रहे हैं, क्या आपको याद है कि आपने उन्हें कहीं सुना या पढ़ा है?  तो आप का स्टॉक और ट्रेडिंग की दुनिया में आपका स्वागत है। क्या आप को इस फील्ड में जाने की रुचि है? क्या आप जानना चाहते हैं कि स्टॉकब्रोकर कैसे बनें? तो इस लेख को पढ़ते रहिए।

दोस्तों आज के इस ब्लॉग में हम जानेगें कि शेयर बाजार के सबसे महत्वपूर्ण करियर ऑप्सन स्टॉकब्रोकर कैसे बनें (Stock Broker Kaise Bane) के बारे में, उम्मीद करते है की स्टॉकब्रोकर कैसे बनें पोस्ट आप को जरुर पंसद आने वाली है। स्टॉकब्रोकर कैसे बनें (Stock Broker Kaise Bane) इस करियर के बारे में पूरी जानकारी के लिए इस ब्लॉग को अंत कर जरुर पढ़ें। ताकि आप को इस करियर के बारे में फुल जानकारी मिल सकें।

Stock Broker Kaise Bane

क्या आप सेंसेक्स और निफ्टी कैसे काम करता जानने के इच्छुक हैं? क्या आपको वित्त संभालने की आदत है? यदि हां तो आप के लिए स्टॉक ब्रोकर के रूप में करियर बनाना अच्छा सबित हो सकता है। यह एक रोमांचक करियर विकल्प होने के साथ इसमें काफी चुनौतियाँ शामिल हैं। अगर आप को चुनौतियाँ स्वीकार हैं तो बेशक इस फील्ड में करियर बना सकतें है।

स्टॉक ब्रोकिंग क्या है / What is Stock Broking?

इन दिनों तेजी लोगों का झुकाव निवेश की ओर बढ़ रहा है। ऐसे में नए कैडिडेंट के लिए करियर के लिहाज से अच्छा रहने वाला है।तो चलिए सबसे पहले आप को बतातें है, स्टॉक ब्रोकिंग क्या है ? (What is Stock Broking) “स्टॉक या अन्य प्रतिभूतियों (securities) को खरीदने और बेचने की प्रक्रिया को स्टॉक ब्रोकिंग कहा जाता है”, और स्टॉक ब्रोकर प्रोफेशनल को स्टॉक ब्रोकर के रूप में जाना जाता है।

एक स्टॉकब्रोकर (stock broker) एक मध्यस्थ है जिसके पास निवेशक (Investor) ओर से स्टॉक एक्सचेंज में स्टॉक (Stock Exchange) और प्रतिभूतियों (Share) को खरीदने और बेचने का अधिकार होता है। यहां पर आप के लिए जानने बात यह है कि एक निवेशक यानि खुद आप सीधे स्टॉक एक्सचेंजों में करोबार नहीं कर सकतें। ऐसे में स्टॉक एक्सचेंज और निवेशक के बीच स्टॉक ब्रोकर एक अहम कड़ी का काम करता है।

एक्सचेंजों के जरिये स्टॉक खरीदने या स्टॉक बेचने के लिए, आपको एक मध्यस्थ की आवश्यकता होती है जो लेनदेन में मदद करेगा  यह मध्यस्थ एक व्यक्ति या एक कंपनी हो सकती है। जोकि एक स्टॉकब्रोकर (stock broker) एक मध्यस्थ होता है। जानकारी के लिए आप को बता दें कि देश में इस फील्ड कई कंपनिया है। जो Stock broker kaise bane के लिए एक अच्छा करियर बन सकता है।

स्टॉक ब्रोकर प्रोफेशनल क्लाइंट को वैल्युएबल सर्विस और जानकारी देते हैं, और स्टॉक खरीदने और बेचने के लिए उन्हें  हेल्प करते हैं। स्टॉक ब्रोकर प्रोफेशनल शेयर बाजार में अपनी सेवाओं के लिए शुल्क और कमीशन लेता है। स्टॉकब्रकिंग एक बहुत ही आकर्षक काम है। जिसमें एक स्टॉकब्रोकर 3 लाख रुपए से 6 लाख रुपए के बीच कहीं भी कमा सकता है।

इसे और भी आसान भाषा में और उदाहरण से समझते हैं। मान लिजिए, आपको, किसी A कम्पनी के 50 शेयर खरीदने हैं। यह ऑर्डर आपने अपने ट्रेडिंग खाते से अपने स्टॉक ब्रोकर  को भेज दिया।

इसके बाद में उसके बाद स्टॉक ब्रोकर प्रोफेशनल आपके ऑर्डर को तुरन्त शेयर बाजार में भेज देगा। आपने जिस स्टॉक ब्रोकर  को A कंपनी के शेयर का ऑर्डर दिया है।

तो स्टॉक ब्रोकर प्रोफेशनल कम्पनी को बाजार में ढूँढेगा और उसी कम्पनी के शेयर आपको दिलवाएगा। ऐसे में आपके और कम्पनी के शेयर्स मिल जाएगें। इसके बाद अब आपके शेयर्स आपके डीमेट अकाउंट में आ जाएंगे और आप ट्रेडिंग अकाउंट पैसे से कट जायेंगे।

यह भी पढ़ें-

Museology क्या है? Museology Me Career Kaise Banaye?

foreign exchange clerk kaise bane/ फॉरेन एक्सचेंज क्लर्क कैसे बनें?

How to Become a Stock Broker

अब सवाल उठता है कि स्टॉक मार्केट में स्टॉक ब्रोकर के रूप में (Stock Broker Kaise Bane) करियर कैसे बना सकता हूं? इसमें कोई खास सब्जेट की जरुरत नहीं होती है। हालांकि आप को इकॉनमी, फाइनेंस, मेथमेटिक्स, बिजनेस, स्टेटिक्स जैसे विषय उस फील्ड में जाने के लिए आप को हेल्प कर सकते है। स्टॉकब्रोकर बनने के लिए आपके पास स्टॉक ब्रोकिंग क्षेत्र में कम से कम दो साल का अनुभव के साथ स्नातक की डिग्री है।

यह भी पढ़ें-

career in actuarial science/ actuarial science में करियर कैसे बनाएं

Career in Retail Management: Education Qualification,Job profile,career scope, salary & more

Top 5 Career Options in India

Eligibility Required to work as sub-broker:

स्टॉक ब्रोकर (Stock Broker Kaise Bane) के रूप में अपना करियर बनाने से पहले आप एक सब- ब्रोकर (Sub-broker)  के रूप में काम कर सकते हैं।

  • कैंडिडेट को अपनी किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12 वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी।
  • आवश्यक न्यूनतम आयु 21 वर्ष है।
  • कैंडिडेट, जिनके पास इकॉनमी, फाइनेंस, मेथमेटिक्स, बिजनेस, स्टेटिक्स है, वे इस कोर्स में प्रवेश कर सकते हैं।

Course for Stock broker

देश के (Stock Broker Kaise Bane ) विभिन्न विश्वविद्यालय कक्षा 12 वीं के बाद सर्टिफिकेट लेवल के कोर्स प्रदान करते हैं। स्टॉक मार्केट में स्टॉक ब्रोकर के रूप में करियर बनाने के लिए सर्टिफकेट कोर्स, डिग्री कोर्स या मास्टर कोर्स कर सकते है। ये कोर्स कौन-कौन से है इसके बारे में हम आप को नीचे जानकारी दे रहे है।

Certificate Courses:-

  • एनएसए सर्टिफिकेट – फाइनेंशिल मार्केट्स (NSE’s Certification in Financial Markets)
  • एनएसए सर्टिफिकेट – मार्केट प्रोफेशनल (NSE’s Certified Market Professional)
  • केपिलट मार्केट में सर्टिफिकेट प्रोग्राम ( Certificate Programme on Capital Markets)

Diploma Courses:-

  • पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा – कैपिटल मार्केट एंड फाइनेंशियल सर्विसेज ( Post Graduate Diploma in Capital Market and Financial Services)
  • पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा – फंडामेंटल्स ऑफ़ कैपिटल मार्केट डेवलपमेंट (Post Graduate Diploma in Fundamentals of Capital Market Development)

Degree Courses:-

  • बैचलर डिर – फाइनेंस, मेथमेटिक्स, बिजनेस, एकांटिंग, एकॉमिक्स, बिनजेस मेंनेजमेंट ( Bachelor Degree in Finance/ Mathematics/Accounting/ Economics/ Business Management)
  • बीकॉम – बैचलर ऑफ कॉमर्स ( B.Com in Bachelor of Commerce )

Master Courses:-

  • एमबीए- फाइनेंस में मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन ( Master of Business Administration (MBA) in Finance
  • एम.कॉम- मास्टर ऑफ कॉमर्स  (M.Com-Master of Commerce)

Certification

आप इन एजुकेशनल कोर्सेज में से अपने लिए कोई सूटेबल कोर्स करने करने के बाद आपको अपना नाम का रजिस्ट्रेशन भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) के पास करना होगा। यानि कि एक स्टॉक एक्सचेंज का सदस्य बनें। सदस्य बनने के लिए, आपको लिखित प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करनी होती है और फिर प्रशिक्षण से गुजरना पड़ता है, जिसमें अकाउंटेंसी, कैपिटल मार्केट, सिक्योरिटीज और पोर्टफोलियो विश्लेषण जैसे विषय शामिल होते हैं। इसके बाद ही आपको सेबी की मेंबरशिप मिलेगी।

आपको मेंबरशिप लेने के लिए निर्धारित राशि संबंधित स्टॉक एक्सचेंज में सिक्यूरिटी के तौर पर देनी होगी। सदस्यता केवल यह सुनिश्चित करने के बाद दी जाती है कि व्यक्ति दलाल के रूप में काम कर सकेगा।  फाइनेंशियल मार्केट में काम करने के लिए जरूरी है कि आपके पास नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का सर्टिफिकेट होना चाहिए।  इस फील्ड में जानें के लिए यहां नीचे दिए गई परीक्षा देनी होती है। आप एक अच्छा ब्रोकर बनने के लिए योग्यता साबित करने के लिए दे सकते हैं। कुछ पॉपूलर एक्जाम हैं, जिनमें-

  • सेंट्रल डिपॉजिटरी में बीएसई सर्टिफिकेट (BSE Certification on Central Depository)
  • डेरिवेटिव एक्सचेंज में बीएसई सर्टिफिकेट (BSE Certification on Derivatives Exchange)
  • करेन्सी फ्युचर में बीएसई सर्टिफिकेट (BSE Certification on Currency Futures)
  • प्रतिभूति बाजार में बीएसई सर्टिफिकेट (BSE Certification on Securities Markets)

Top Institute and university

  • इंस्टीट्यूट ऑफ फाइनेंशियल एंड इन्वेस्टमेंट प्लानिंग, मुंबई (Institute of Financial and Investment Planning, Mumbai)
  • ऑल इंडिया सेंटर फॉर कैपिटल मार्केट स्टडीज, नासिक (All India Centre for Capital Market Studies, Nasik)
  • इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया, नई दिल्ली (Institute of Company Secretaries of India, New Delhi)
  • इंस्टीट्यूट ऑफ कैपिटल मार्केट डेवलपमेंट, नई दिल्ली (Institute of Capital Market Development, New Delhi)
  • मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, मुंबई (Mumbai Stock Exchange Training Institute, Mumbai)
  • इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड फाइनेंशियल एनालिस्ट्स ऑफ इंडिया (ICFAI), हैदराबाद (Institute of Chartered Financial Analysts of India (ICFAI), Hyderabad)

Stock broker services

आइए अब जानतें  हम उन सेवाओं को जो स्टॉकब्रोकर परंपरागत रूप से अपने ग्राहकों को अधिक विस्तार से प्रदान करते हैं।

  • स्टॉक ब्रोकर स्टॉक (Stock Broker Kaise Bane ) और अन्य प्रतिभूतियों को खरीदने और बेचने पर सटीक सलाह देते हैं चूंकि वे बाजारों को जानते हैंइसलिए वे एक ग्राहक को सलाह दे सकते हैं कि कौन से स्टॉक खरीदें और बेचें और उन्हें कब खरीदना या बेचना है। वे ऐसी सिफारिशें या सलाह करने से पहले अच्छी तरह से प्रतिभूतियों का रिसर्च करते हैं ।
  • स्टॉकब्रोकरअपने ग्राहकों की ओर से शेयर खरीदते हैं और बेचते हैं और संबंधित कागजी कार्रवाई को संभालते हैं। वे रिकॉर्ड कीपर के रूप में भी कार्य करते हैं और सभी लेनदेनबयानों आदि के रिकॉर्ड रखते हैं।
  • स्टॉकब्रोकरग्राहक के निवेश पोर्टफोलियो का प्रबंधन करते हैं और अपने ग्राहकों को अपने पोर्टफोलियो के बारे में नियमित रूप से अपडेट प्रदान करते हैं। वे ग्राहक के निवेश से जुड़े सवाल का जवाब भी देते हैं। इनसे संबधित सवालों के जबाब देते है।
  • स्टॉक ब्रोकर शेयर बाजार में किसी भी नए निवेश के अवसर के बारे में अपने ग्राहक को सूचित करते हैं, और बाजार की स्थितियों के के बारे में नजर रखतें है।

Types of stack broker

स्टॉकब्रोकर के प्रकार (Stock Broker Kaise Bane ) उम्मीद करते है कि आप को स्टॉकब्रोकर के बारे में समझ में आ गया होगा अब आप को बताते है Types of stack broker के बारे में यानि कि  stack broker कितने तरह के होते है। प्रदान की गई सेवा के प्रकारों के आधार पर, दो प्रकार के स्टॉकब्रोकर्स होते हैं – पूर्ण सेवा स्टॉकब्रोकर और डिस्काउंट स्टॉकब्रोकर हैं।

Stock Market Jobs

  • Financial Advisor
  • Investment Advisor
  • Capital Market Specialists
  • Independent Agent
  • Accountants
  • Securities Analyst
  • Financial Managers
  • Security Traders
  • Security Sales Representative
  • Securities Broker

Career scope

स्टॉकब्रकिंग यानि (Stock broker kaise bane) के क्षेत्र में रोजगार के अवसर बहुत अधिक हैं। एक बार जब एक उम्मीदवार को बाजार की समझ मिल जाती है, तो वह नामी इवेस्टर बन सकता है। यह एक बहुत ही आकर्षक क्षेत्र है और सही ज्ञान, आत्मविश्वास और अनुभव के साथ, एक सुंदर जीवन के साथ एक आकर्षक लाइफ जी सकता है जो कि जॉब से अधिक का भुगतान करता है।

आप को बता दें कि अगर आप को इस फील्ड में अच्छी समझ विकसित हो जाती तब आप आपने आप को कई प्लेटफार्म से जोड़ सकते है खुद का ब्लॉग, यो सोशल मीडिया का सहारा लेकर दुसरों को भी जानकारी को शेयर कर सकते है आप को बता दें कि स्टॉकब्रोकर निम्नलिखित क्षेत्रों में काम कर सकते हैं:

  • Investment Firms
  • Financial Advising Firms
  • Investment Banking Firms
  • Broking Firms & Traditional Banks
  • Insurance Companies/ Corporate Giants
  • Mutual Funds
  • Magazines and Newspapers & Research
  • Pension Funds

सैलरी

स्टॉक ब्रोकर (Stock Broker Kaise Bane ) की सैलरी कैडिडेंट की योग्यता और प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। स्टॉक ब्रोकर का शुरुआती वेतन 2 से 3 लाख रुपये सालाना के बीच हो सकती है।  जैसे-जैसे आप अनुभव प्राप्त करते हैं, सालाना 5 से 7 लाख रुपए कमा सकतें है।  कुछ ब्रोकिंग कंपनियां प्रदर्शन के आधार पर वेतन के अलावा बोनस का भुगतान करती हैं। खास बात यह है कि आप अपनी स्किल के दम पर भी करोड़ों में कमा सकते हैं।

Career Pedia को उम्मीद है कि इस Career in Retail Management के तहत पोस्ट में दी गई  जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके कोई भी सवाल, सुझाव या इस लेख में कोई त्रुटि रह गई है तो हमे कॉमेंट और Email कर सकते हैं। हमारे You Tube Channel, Facebook page Linkdin page, Instragram और  Telegram channel पर जुड़ सकते है। वहां से करियर जानकारी के पोस्ट व वीडियों के लेटेस्ट नोटिफिकेशन पा सकते है। धन्यवाद !!

Leave a Comment