Sports Journalist Kaise Bane: How to Become a Sport Journalist?

Sports Journalist Kaise Bane: अगर आप को स्पोर्ट्स से बेहद प्यार है, स्पोर्ट्स से जुड़ें इवेंट, मैच की कवरेज, और बड़ी-बड़ी हस्तियों से इंटरव्यू के अलावा आदि तरीके से ऑडिंयन से जानकारी पहुचाना चाहतें तो  आप के लिए स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism) के रुप में करियर बनाना अच्छा साबित हो सकता है।

आज के इस ब्लॉग में करियर पीडिया आप के लिए लाया है। स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट कैसे बनें (Sports Journalist Kaise Bane) इससे संबधित महत्वपूर्ण जानकारी Sports Journalist कैसे बनें इसके बारे में जानने के लिए इस ब्लॉग को लास्ट कर जरुर पढ़ें।

Sports Journalist Kaise Bane?

समय के साथ, स्पोर्ट्स न्यूज का कवरेज महत्व में बढ़ गया है। देश में दुनिया में स्पोर्ट्स इवेंट चलते ही रहते है। एक स्पोर्ट्स रिपोर्टर या स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports Journalist Kaise Bane) के रूप में, आपको स्पोर्ट्स गेम्स, इवेंट्स, वेन्यू और प्रतियोगिताओं के बारे में रिपोर्ट करना होता है। स्पोर्ट्स ऑडियन्स केवल मैदान पर होने वाली घटनाओं के बारे में जानने के लिए उत्सुक हैं बल्कि पर्दे के पीछे और खिलाड़ियों के निजी जीवन के बारे में भी जानना चाहते हैं। वही जब स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट आंकड़ों का तड़का लगाते तो आ सुनने वाले या देखने वाले भी हैरान रह जातें है।

देश में लोग खेल को देखने के अलावा इससे जुड़े सभी समाचार के बारे में पढ़ने में रुचि रखते हैं। इस के चलते स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports Journalist Kaise Bane) की बढ़ती पॉपुलरटी के कारण खेल पत्रकारिता से जुड़े चैनल, वेबसाइट दिन पे दिन बढ़ रहें है। अगर स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के रुप में करियर बनाना चाहतें और इसके लिए आप को जिस भी स्पोर्ट्स में जर्नलिस्ट बनना चाहतें तो आप को उस स्पोर्ट्स के बारे में अच्छी तरह जानकारी होना चाहिए। जैसे क्रिकेट, हाकी, या बड़े स्पोर्ट इवेंट के अलावा कई कई प्रकार है।

खास बात यह है आज का दौर डीजिटल मीडिया का है। ऐसे में आप के लिए इसमें करियर बेहतरीन ऑप्सन है। इस फील्ड में आप को अच्छी खासी सैलरी मिलती है बल्कि खिलाड़ियों से जुड़ने का मौका भी मिलता है। इसके साथ ही जाहिर सी बात है कि खेल में इंवेंट को कवर करने के लिए हवाई यात्रा और और विदेश में जाने का भरपूर मौका मिलता है।

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट को क्या करना होता है?

दोस्तों स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट एक जर्नलिज्म का हिस्सा है। जिसमें आप को वर्क करना होता है। स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट कैसे बनें यह जानने से पहले आप को बताते है, स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट का मुख्य काम, जिम्मेदारियाँ, कहां काम करने के मौके मिलतें है।

एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports Journalist Kaise Bane) को स्पोर्ट्स इवेंट्स, टीमों, ऑर्गेनाइजेशन आदि की कवरेज करनी पड़ती हैं। जिसमें स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism) को खास और बड़ी शख्सियति का इंटरव्यू, पोडकास्ट, अर्टिकल लिखना आदि जैसे काम हो सकतें है।

इसके साथ ही डेस्क जॉब के रूप में खास टॉपिक एनालिसिस करना, ऑकड़ें को कलेक्ट करना, कॉलम लिखना, ऑनलाइन वेबसाइट के लिए कटेंट राइटिंग,  मैच की कवरेज करना और स्पोर्ट्स न्यूज़ की एडिटिंग, स्कोर की खबर को अपडेट करना या लिखना, सेलेक्ट करना/  डिस्ट्रीब्यूट करने जैसे काम करना होता है।  इसके साथ ही राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय स्पोर्ट्स इवेंट्स के दौरान लाइव कवरेज के लिए स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट को कई जगहों या विदेशो की यात्रा भी करनी पड़ती है।

स्पोर्ट्स और एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री के काम कर रहें कैडिडेंट पर बड़ी जिम्मेदारी होती है।  एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism) के तौर पर काम कर रहें कैडिडेंट के लिए आवश्यक होता है कि आपके पास यह सुनिश्चित करने की एक बड़ी ज़िम्मेदारी होगी कि सही तरीके से दिखाई या लिखी गई प्रामाणिक जानकारी सही तरीके से सही समय पर सही दर्शकों तक पहुँच सके। जिसमें ऑक़ड़ों की सटीकता हो।

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बनने के बाद कहाँ काम कर सकते है?

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बनने के बाद कैडिडेंट को कई जगह काम करने के ऑप्सन मिलते है। जिसमें आप जाना चाहतें तो उसे चुन सकते है। स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट का काम में खेल इवेंट, घटनाओं, मैच को कवर करना, इंटरव्यूअर्स लेना, आदि जैसे हो सकते है। स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट को बड़ी टीम के साथ काम करना होता है, जिसमें न्यूज़ एडिटर्स, मार्केटिंग ऑफिसर्स, विज्ञापन एजेंसियों, ग्राफिक डिजाइनरों, के आलवा विडियों प्रोडक्शन टीम के साथ काम करना होता है।

अब आप को बतातें है कि स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट को कहां पर काम करने मौके मिल सकते है।  आज के दौर डिजीटल मीडिया का है। ऐसे में इस माध्यम से हर किसी की पहुंच हो गई है। जर्नलिज्म से रिलेटिड कोर्स कर चुके कैंडिडेंट को न्यूज़ चैनल, स्पोर्ट्स चैनल, न्यूज पेपर, मैगज़ीन, मीडिया हाउस, न्यूजएजेंन्सी, रेडियो स्टेशन, टेलीविजन कंपनियों से लेकर ऑनलाइन मीडिया और प्रिंट मीडिया में काम सकते है।

How to Become a Sports Journalist?

जर्नलिज्म एक ऐसा करियर फील्ड जिसमें आप को अच्छा जानकारी होनी चाहिए। अपने करियर की शुरुआत इंटर्नशिप से कर सकतें है। जिससे आप की अच्छा स्किल सेट आ जाए। ऐसे में स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane) बनने के लिए डिप्लोमा कोर्स, डिग्री कोर्सेज, मास्टर कोर्सेज और पीएचडी तक भी कर सकते है।

दोस्तों स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट बनने के लिए Mass Communication या जर्नलिज्म में डिग्री या डिप्लोमा कोर्स कर सकते है स्पोर्ट जॉर्नलिस्ट बनने के लिए अलग से कोई कोर्स नहीं होता है। आप सिर्फ जर्नलिज्म का कोर्स करने के बाद खेल के क्षेत्र को चुन सकते है, और अपने खेलों के प्रति जानकारी को बड़ा कर  स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane)  के रूप में दुनिया के सामने आ सकते है।  तो चलिए जानते हैं स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane) बनने के डिप्लोमा कोर्स, डिग्री कोर्सेज, मास्टर कोर्सेज और पीएचडी के बारे में

ये भी पढ़ें- Animator Kaise Bane: Become a Animator/ एनिमेटर कैसे बनें जानिए फुल जानकारी?

Gaming Me Career : Gaming में Career कैसे बनायें, जानिए फुल जानकारी?

Important Days in May 2022 in Hindi : मई 2022 में महत्वपूर्ण दिन, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय दिवस, तिथियां

All Divas List in Hindi 2022 : साल 2022 के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय दिवसों की लिस्ट

Java Developer Kaise Bane : एक सफल Java Developer कैसे बने जानिए पूरी जानकारी

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane) बनने के लिए सबसे पहले किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से पहले अपनी 10वीं और 12वीं पूरा करें। इसके साथ ही इन परीक्षाओं में अच्छे अंकों के साथ पास करनी है। जिसमें आपको अपने 10वीं और 12वीं परीक्षा में कम से कम 60% अंक लाने अनिवार्य है। 12वीं पास करने के बाद आप स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane) बनने के लिए डिप्लोमा कोर्स, डिग्री कोर्सेज, मास्टर कोर्सेज और पीएचडी कर सकतें है।

Journalism and Mass Communication Course

Diploma Course

  • Diploma in journalism and mass communication
  • Diploma in journalism
  • Diploma in web media online media
  • Diploma in broadcast journalism
  • Diploma in electronic media
  • Diploma in print media

Under Graduate Courses

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane) के लिए ग्रेजुएशन कोर्स है जिस में एडमिशन लेने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं परीक्षा 60% अंक से पास करना होता है।  उसके बाद आप इसमें एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं। तो चलिए बैचलर कोर्स के बारे में आप को बतातें है।

  • BA in mass communication
  • BSc in mass communication
  • BA in journalism
  • Bachelor in journalism and mass communication
  • Bachelor in broadcast journalism
  • Bachelor in print media
  • BSc in advertising and journalism

Post Graduate Courses

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane) के लिए पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है जिस में एडमिशन लेने के लिए आपको सबसे पहले ग्रेजुएशन में बैचलर कोर्स करना होता है। जिसमें आप के 60% अंक होना चाहिए।  उसके बाद आप इसमें एडमिशन प्राप्त कर सकते हैं। तो चलिए पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स  के बारे में आप को बतातें है।

  • Masters in mass communication
  • Masters in print media
  • Masters in journalism
  • Masters in advertising and journalism
  • Masters in journalism and mass communication
  • Masters in broadcast journalism

Journalism कोर्स में एडमिशन प्रक्रिया

देश में ऐसे कई कॉलेज, विवि, और प्राईवेट संस्थान है, जो जर्नलिज्म से जुड़ें डिप्लोमा कोर्स, डिग्री कोर्सेज, मास्टर कोर्सेज और पीएचडी कोर्स संचालित कर रहें है। जिसमें  एडमिशन लेने के लिए Entrance Exam से गुजरना पड़ता है। अगर आप आप को किसी नामी संस्थान से जर्नलिज्म से जुड़ा कोर्स करना चाहतें तो आप को Entrance Exam देना पड़ेगा। जैसे Indian Institute Of Mass Communication  में एडमिशन लेने के लिए Entrance Exam देना पड़ता है। इसके साथ ही  जो रैंक आएगा उसके आधार पर एडमिशन लिया जायेगा।  वही कुछ शैक्षणिक संस्थानों में डायरेक्ट नामांकन हो जाता है।  

Journalism कोर्स की फीस

जर्नलिज्म कोर्स के फीस की बात करे तो प्राइवेट इंस्टिट्यूट में 50 हजार से 1 लाख प्रति साल के बीच होती है। वही सरकारी शैक्षिणिक संस्थानो में कोर्स का फीस 15 से 20 हजार प्रति साल होता हैं।

कहां मिलेगें काम करने के मौके

जर्नलिज्म का कोर्स करने के बाद नौकरी की शुरुआत आप किसी अच्छे न्यूज़ चैनल या मीडिया हाउस में स्पोर्ट बीट में इंटर्नशिप करें। जिसमें आप पेड इंटर्न मिल जाएगी। इंटर्नशिप करने के दौरान आप के स्किल को और स्ट्रॉग करें और स्पोर्ट बीट में जानकारी को बढ़ाने आंकड़ों की जनाकारी रखें।

सभी जानकारी होने के बाद आप आसानी से स्पोर्ट चैनल, बड़ें- बड़ें मीडिया हाउस, न्यूज़ चैनल, ऑनलाइन वेबसाइट, रेडियो स्टेशनन्यूज़ पेपर और अखबारों या जर्नल्स में नौकरी कर सकते है।

जर्नलिज्म कोर्स कहाँ से करे?

दोस्तों पत्रकारिता एक ऐसा फील्ड में जिसमें आप को बहुत ही कॉप्टिशन मिलता है। अगर आप की पत्रकारिता में अच्छा पकड़ नहीं और आप ने अपनी स्किल सेट स्ट्रॉग नहीं की तो आप के रोजगार मिलने में बड़ी परेशानी हो सकती है। जिससे काफी लोग खेल पत्रकारिता कोर्स करने के बाबजूद बेरोजगार घूम रहे है। ऐसे में कैडिडेंट को चाहिए की अच्छे कॉलेज से ही पत्रकारिता का कोर्स करें। पत्रकारिता कोर्स करने के लिए कुछ कॉलेज/इंस्टिट्यूट का लिस्ट इस तरह से हैं।

दोस्तों इसके  स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane) बनने के लिए ऊपर दिए गए कॉलेज के अलावा भी अन्य काफी अच्छे गवर्नमेंट और प्राइवेट मीडिया कॉलेज हैं, जंहा से आप पत्रकारिता का कोर्स कर स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट (Sports journalism Kaise Bane) बन सकते सकते हैं।

स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट की सैलेरी 

इस फील्ड में शुरूआत एक इंटर्नशिप के तौर कर सकतें है। आप को ये इंटर्नशिप पेड या अनपेड मिल सकती है। जिसके बादे में शुरु में स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट को में हर महीने 2 से 3 लाख रुपए का सालान पैकेज या उससे ज़्यादा भी मिलता हैं। वैसे नौकरी प्रोफाइल और काम करने के लिए आपको मिलने वाली सुविधाओं के अनुसार कमाई अलग-अलग होती है। आपके काम के अनुभव के साथ और जैसे-जैसे आप के सैलरी में बढ़ोत्तरी हो रहती है। टीवी पर स्पोर्ट्स से संबधित प्रोग्राम करने वाले स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट को बड़ी सैलरी पैकेज मिलता है।  

Leave a Comment