Paramedical course in Hindi : पैरामेडिकल कोर्स क्या है, योग्यता, कोर्सेज, सैलरी और जॉब अवसर A To Z जानकारी

Paramedical Course in Hindi: अगर मेडिकल सेक्टर की बात की जाए तो ये ऐसा सेक्टर है जो लगातार बढ़ता जा रहा है। यही नहीं आने वाले समय इसमें काफी विकास होता जा रहा है। अब अगर इसमें करियर बनाने की बात आए तो आप समझ सकते हैं कि इसमें करियर बनाना आपके लिए कितना शानदार होगा।

Paramedical course in Hindi

आज हम बात कर रहे पैरामेडिकल कोर्स (Paramedical Course in Hindi) की। पैरामेडिकल कोर्स एक ऐसा कोर्स है जिसमें आप अच्छी सैलरी की नौकरी कर सकते हैं, इसके आलावा आप चाहे तो अपना खुद का काम कर सकते हैं। तो चलिए  पैरामेडिकल कोर्स के बारे में A TO Z जानकारी जानते हैं। जैसे पैरामेडिकल कोर्स (Paramedical Course in Hindi) क्या है? पैरामेडिकल कोर्स करने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए, पैरामेडिकल कोर्स में जॉब के अवसर क्या हैं, पैरामेडिकल कोर्स की फीस और कॉलेज के साथ साथ पैरामेडिकल कोर्स को करने के बाद कितना कमाएंगे

पैरामेडिकल क्या है (Paramedical kya hai)

पैरामेडिकल विज्ञान से जुड़ा एक क्षेत्र है। पैरामेडिकल फील्ड  (Paramedical Course in Hindiमें काम करने वाले व्यक्ति को एक सहायक चिकित्सक कहा जाता है। यानी ये भी एक डॉक्टर की तरह काम करता है। इनका काम अस्पताल के भीतर रोगियो की देखभाल करना तथा उनका इलाज़ करना होता है। वहीं इमरजेंसी में चिकित्सा सहायता और लोगों की जांच के लिए पैरामेडिकल टीम की ही जरूरत पड़ती है। इस कोर्स को करने के बाद आप Daignoses, Physio, Laboratory में Technician के रूप में भी काम कर सकते है।

पैरामेडिकल कोर्स के लिए योग्यता

अगर आप पैरामेडिकल कोर्स ( Paramedical Course in Hindi) करना चाहते हैं तो आपका विज्ञान विषय में 10 वीं और 12 वीं पास होना जरूरी है। इसके बाद ही आप डिग्री कोर्स और पैरामेडिकल डिप्लोमा कोर्स कर सकते है। आपके 12वीं में कम से कम 50 फीसदी मार्क्स होने चाहिए।

हालांकि कुछ कोर्स हैं जिनको आप 10वीं पास करने के बाद ही कर सकते हैं। दरअसल ये कुछ पैरामेडिकल डिप्लोमा कोर्सेज (Paramedical Diploma course in Hindi) होते हैं।

अगर बात करें कि पैरामेडिकल कोर्स कितने साल होता है तो आपको बता दूं कि अगर पैरामेडिकल कोर्स 10वीं के बाद करते हैं तो  6 महीना से 2 साल तक का समय लग सकता है। वहीं अगर 12वीं के बाद करते हैं तो एक साल से 4 साल तक का समय लगता है।

पैरामेडिकल कोर्से में एडमिशन कैसे लें ?

पैरामेडिकल कोर्सेज (Paramedical Course in Hindi) के लिए हर अप्रैल-मई के बीच में एप्लीकेशन फॉर्म आते हैं। पैरामेडिकल कोर्स में एडमिशन के लिए छात्र CPNET यानी संयुक्त पैरामेडिकल एंड नर्सिंग का entrance exam क्लियर करके एडमिशन ले सकते हैं। इसके आलावा इसके आलावा जिपमर (JIPMER), नीट-पीजी (NEET-P), एमएचटी सीईटी (MHT-CET), नीट-यूजी (NEET-UG) का entrance exam क्लियर करना होता।

ये भी पढ़ें-

Bacteriologist kaise bane : How to become a Bacteriologist? career in bacteriology?

Pathologist Kaise Bane:- How to make career in Pathology?

Without NEET Medical courses in hindi

Anesthesiologist kaise baneDermatologist kaise bane/ डर्माटोलॉजिस्ट कैसे बनें?

वहीं entrance exam देने के आलावा आप किसी प्राइवेट कॉलेज में डायरेक्ट एडमिशन ले सकते हैं। प्राइवेट कॉलेज में मेरिट के आधार एडमिशन होता है। वहीं कुछ कॉलेज खुद का entrance exam करवाते हैं।

पैरामेडिकल कोर्स की जानकारी

पैरामेडिकल कोर्स तीन तरह (Paramedical Course in Hindi) का होता है। डिग्री कोर्स, डिप्लोमा कोर्स और सर्टिफ़िकेट कोर्स। आप योग्यता के अनुसार इन तीन कोर्स में कोई भी कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स की फीस कॉलेज पर निर्भर करती है।

 

पैरामेडिकल डिप्लोमा कोर्स

  • डिप्लोमा इन डायलिसिस टेक्नोलॉजी
  • डिप्लोमा इन नर्सिंग केयर असिस्टेंट
  • डिप्लोमा इन ओटी टेक्निशियन
  • डिप्लोमा इन एक्सरे टेक्नोलॉजी
  • ऑडीओमेट्री तकनीशियन में डिप्लोमा
  • भौतिक चिकित्सा में डिप्लोमा
  • ऑडियोलॉजी और स्पीच थेरेपी में डिप्लोमा

पैरामेडिकल सर्टिफ़िकेट कोर्स

  • सर्टिफ़िकेट इन नर्सिंग केयर असिस्टेंट
  • सर्टिफ़िकेट इन रूरल हेल्थ केयर
  • सर्टिफ़िकेट इन एचआईवी एंड फैमिली एजुकेशन
  • सर्टिफ़िकेट इन डेंटल असिस्टेंट
  • सर्टिफ़िकेट इन होम बेस्ड हेल्थ केयर

बैचलर डिग्री पैरामेडिकल कोर्स

  • बैचलर ऑफ़ फिजियोथेरेपी
  • बीएससी एक्सरे टेक्नोलॉजी
  • बीएससी ऑपरेशन थिएटर टेक्नोलॉजी
  • बीएससी मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी
  • बैचलर ऑफ ऑक्यूपेशनल थेरैपी
  • बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी
  • ऑडियोलॉजी में बीएससी

पैरामेडिकल पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स

  • मास्टर ऑफ़ रेडिएशन टेक्नोलॉजी
  • मास्टर ऑफ़ मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी
  • मास्टर ऑफ़ पैथोलॉजी टेक्नोलॉजी
  • PG डिप्लोमा इन मैटरनल एंड चाइल्ड हेल्थ
  • PG डिप्लोमा इन Geriatric मेडिसिन
  • मास्टर ऑफ़ फार्मेसी
  • ऍम. एस. सी. इन नर्सिंग

पैरामेडिकल कोर्स के लिए फीस

पैरामेडिकल कोर्स  (Paramedical Course in Hindi) करने के लिए आपको अलग-अलग कोर्स के लिए अलग-अलग फीस देनी होती है। क्योंकि जैसे की ऊपर बताया गया है कि ये कोर्स तीन तरह का होता है। इसलिए फीस इस बात के ऊपर निर्भर करती है कि आपने कौन सा कोर्स चुना है। वहीं प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए आपको ज्यादा फीस देनी पड़ सकती है।

पैरामेडिकल सर्टिफिकेट कोर्स फीस

पैरामेडिकल कोर्स में सर्टिफिकेट करने के लिए  भी फीस उस कोर्स के ऊपर निर्भर होगी जो आपने लिया है। आमतौर पर यह 20 हजार रुपए से लेकर 2 लाख तक हो सकती।

पैरामेडिकल अंडर ग्रैजुएट कोर्स फीस

जितने भी अंडरग्रैजुएट पैरामेडिकल कोर्सेज (Paramedical Course in Hindi) हैं उनकी फीस 40 हजार रुपए से लेकर 5 लाख तक हो सकती है जो कि आप के कोर्स के ऊपर डिपेंड करती है। यह फीस आपके पूरे अंडरग्रैजुएट कोर्स के लिए है।

पैरामेडिकल डिप्लोमा कोर्स फीस

पैरामेडिकल कोर्स में डिप्लोमा करने के लिए आपको 30 हजार से लेकर 4 लाख रुपए तक की फीस देनी पढ़ सकती है जो कि पूरे पाठ्यक्रम की फीस होगी।

 

पैरामेडिकल कोर्स करने के बाद जॉब के अवसर

पैरामेडिकल का कोर्स करने के बाद आपके पास कई जॉब के अवसर हैं। इसमें आप प्राइवेट जॉब (Private job) करने के साथ गवर्नमेंट जॉब (Government job) के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसमें आपको रेडियोग्राफी, ऑप्टोमेट्री, मेडिकल लेबोरेटरी, फार्मासिस्ट, लैब टेक्नीशियन और नर्स जैसे पदों पर काम करने को मिलेगा। इसके साथ प्रोस्थेटिक और ऑर्थोटिक इंजीनियर बन सकते हैं जिसके अंतर्गत आपको कृत्रिम अंग बनाने होंगे, किसी डॉक्टर के असिस्टेंट बन सकते हैं, किसी डेंटल डॉक्टर के सहायक बन सकते हैं, सीटीसी स्कैन टेक्नीशियन, एक्स-रे टेक्निशियन या रेडियोलॉजी असिस्टेंट, ऑपरेशन थिएटर असिस्टेंट की तरह काम कर सकते हैं।

इसके आलावा आप अपनी खुद की मेडिकल शॉप, जांच घर और क्लीनिक भी खोल सकते हैं। यह आपका खुद का बिजनेस होगा। जिसमें आप काफी अच्छा खासा कमाएंगे।

पैरामेडिकल कोर्स करने के लिए कॉलेज

अगर आप पैरामेडिकल कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते है, तो आपको हम पैरामेडिकल के कुछ प्रमुख कॉलेजों के नाम बताने जा रहे है।

  • दिल्ली पैरामेडिकल एंड मैनेजमेंट एंड इंस्टीट्यूट
  • राजीव गांधी पैरामैडिकल इंस्टीट्यूट
  • उपाधि पैरामैडिकल कॉलेज, इटावा, सैफाई
  • कैलाश इंस्टिट्यूट ऑफ नर्सिंग एंड पैरामाडिकल साइंसेस

पैरामेडिकल सैलरी

अब अगर हम पैरामेडिकल कोर्स की सैलरी की बात करें तो इसमें सैलरी अच्छे कॉलेज से टॉप रैंकिंग में कोर्स करने और वर्क एक्सपीरियंस (work experience) पर डिपेंड करती है।

सीधे तौर पर कहें तो अगर आप इस फील्ड में एक्सपीरियंस ले लेंगे तो सालाना लगभग 2,00,000 से लेकर 4,00,000 रुपए की सैलरी पा सकते हैं। लेकिन अगर आप नए हैं तो शुरुआत में आपकी सैलरी सालाना 2-3 लाख रुपए के बीच होगी।‌

वहीं इंडिया में पैरामेडिकल की एवरेज सैलरी 15000 हजार के आस पास है। अगर आप अच्छा वर्क एक्सपीरियंस पा लेते हैं तो आप और भी अच्छा कमा सकते हैं।

यह फील्ड उन स्टूडेंट्स के लिए बहुत ही बेहतर है जो एक डॉक्टर के रूप में काम करने की इच्छा रखते है। आप अपने भविष्य को बेहतर बनाने के लिए इस कोर्स का चुनाव कर सकते है।

Career Pedia को उम्मीद है कि (Important Days in May 2022 in Hindi ) में दी गई  जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके कोई भी सवाल, सुझाव या इस लेख में कोई त्रुटि रह गई है तो हमे कॉमेंट और Email कर सकते हैं। हमारे You Tube Channel, Facebook page Linkdin page, Instragram और  Telegram channel पर जुड़ सकते है। वहां से करियर जानकारी के पोस्ट व वीडियों के लेटेस्ट नोटिफिकेशन पा सकते है। धन्यवाद !!

Leave a Comment