Nanotechnology me career kaise banaye

Nanotechnology me career kaise banaye

Nanotechnology me career kaise banaye :- क्या आप को फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स जैसे विषयों में रूचि है, क्या आप तकनीक में कुछ बेहतर करना चाहते हैं। क्या आप नैनोटेक्नोलॉजी में करियर कैसे बनाए इस टॉपिक पर जानकारी चाहते है, तो आप सही लेख पढ़ रहे है। इस लेख में नैनोटेक्नोलॉजिस्ट कैसे बनें? इस पर महत्वपूर्ण जानकारी दे रहे है। आज के समय में नए-नए इनोवेशन सामने आ रहे है। जिससे कि नैनोटेक्नोलॉजी मौजूदा समय में एक बहुत ही उभरता हुआ क्षेत्र है जिसमें छात्र 12वीं के बाद अपना Nanotechnology me career kaise banaye कैरियर बनाना चाहते हैं। अगर आपको फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स जैसे विषयों में रूचि है तो आप इस फील्ड में जा सकते हैं।

इस लेख में नैनोटेक्नोलॉजी (Nanotechnology me career kaise banaye) में कैसे करियर बनाए इससे संबधित पूरी जानकारी मिल जाएगी। हम आप से आशा करते है कि इस लेख को आफ जरुर शेयर करेगें। Nanotechnology me career kaise banaye के तहत आप को career in Nanotechnology, What is Nanotechnology, How to become a Nano-technologist, Education Qualification,  work profile, required skills, career scope, main institute and university, Top recruiters, salary, study abroad, के बारे में जानकारी दे रहे है उम्मीद करते है की ये पोस्ट आप को जरुर पंसद आने वाली है।

Nanotechnology me career kaise banaye

टेक्नॉलॉजी लगातार तरक्की कर रही है। जिससे की विभिन्न फील्द उभर के सामने आए है। क्या इन फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते हैं। Nanotechnology एक ऐसा टेक्नॉलॉजी है (Nanotechnology me career kaise banaye) जो करीब पचास साल पहले एक सिद्धात थीं जोकि अब इस पर काम हो रहा है जोकि आज के समय में कई प्रॉब्लम को सॉल्व कर रही है। नैनोटेक्नोलॉजिस्ट का दायरा और महत्व जबरदस्त है और यह आज के देश के इंजीनियरिंग ग्रेजूएट के लिए उपलब्ध सबसे अच्छे करियर विकल्पों में से एक है।

What is Nanotechnology

Nanotechnology me career kaise banaye. नैनो एक ग्रीक शब्द है, जिसका शाब्दिक अर्थ है सूक्ष्म, छोटा या बौना और नैनो ऐसे पदार्थ है जो अति सूक्ष्म आकार वाले तत्वों से बने होते है। नैनोटेक्नोलॉजी  के तहत नैनो रिसर्च और इनोवेशन का एक फील्ड है। नैनोटेक्नोलॉजी या नैनोटेक वह तकनीक है। जिसमें किसी भी पदार्थ में परमाणु, आणविक और सुपरमॉलीक्यूलर स्तर पर परिवर्तन किया जा सकता है।

The Future of Customer Experience: Chatbots and AI? | Technology diy,  Medical technology, Technology hacks

इसमें 1 से 100 नैनोमीटर तक के कण शामिल होते हैं। अर्थार्त यह टेक्नोलॉजी वह अप्लाइड साइंस है, जिसमें 100 नैनोमीटर से छोटे पार्टिकल्स पर भी काम किया जाता है। नैनो टेक्नोलॉजी अणुओं व परमाणुओं की इंजीनियरिंग है, जो भौतिकी, रसायन, बायो इन्फॉर्मेटिक्स व बायो टेक्नोलॉजी जैसे विषयों को आपस में जोड़ती है।

आप को बता दें कि इस टेक्नोलॉजी की मदद से बायो साइंस, मेडिकल साइंस, इलेक्ट्रॉनिक्स आदि में क्रांतिकारी बदलाव लाया जा सकता है क्योंकि इससे किसी भी वस्तु को हल्का, मजबूत  और भरोसेमंद बनाया जा सकता है ।

नैनोटेक्नोलॉजी पर सबसे पहले 29 दिसंबर 1959 को कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (CalTech) में एक अमेरिकी भौतिक सोसाइटी की बैठक में भौतिकशास्त्री रिचर्ड फेनमैन ने अपने एक व्याख्यान में “There’s Plenty of Room at the Bottom” पर इसके तकनीक पर विचार और अवधारणाएं व्यक्त की थीं।

यही वाक्य आगे चलकर नैनोटेक्नोलॉजी का आधारस्तम्भ बना। अपने भाषण में, फेनमैन ने एक प्रक्रिया का वर्णन भी किया जिसमें वैज्ञानिक अलग-अलग परमाणुओं और अणुओं को हेरफेर करने और नियंत्रित करने में सक्षम होंगे।

Who is Nanotechnologist

नैनोटेक्नोलॉजिस्ट नैनोटेक्नोलॉजी के क्षेत्र में ऐसा प्रोफेशनल होता है जो पदार्थ के आणविक स्तर पर निर्मित बेहद छोटे इलेक्ट्रॉनिक सर्किट और मैकेनिकल उपकरणों के डिजाइन और निर्माण से संबंधित है।

How to make career in Nanotechnology

नैनोटेक्नोलॉजी में अंडरग्रेजुएट कोर्स के लिए कैंडिडेट को साइंस स्ट्रीम पी.सी.एम में 10+ 2 पास होना चाहिए, जिसमें संबंधित विषयों में एग्रीगेट में न्यूनतम 50 फीसद अंक हों। नैनो टेक्नोलॉजी (Nanotechnology me career kaise banaye)में जाने के लिए , अंडर ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट, से लेकर डॉक्टरेट स्तर के कोर्स कर सकते है।

Under graduate course:

BE (Bachelors of Engineering) Nanotechnology/बीई (बैचलर्स ऑफ इंजीनियरिंग) नैनो टेक्नोलॉजी वाई
B.Tech (Bachelors in Technology) Nanotechnology/बीटेक (बैचलर्स इन टेक्नोलॉजी) नैनो टेक्नोलॉजी

Post Graduate course:

Nanotechnology me career kaise banaye के लिए भौतिक विज्ञान, मैकेनिकल, बायोमेडिकल, केमिकल, बायोटेक्नोलॉजी, इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर साइंस या बीटेक में फिजिक्स, केमिस्ट्री, गणित और लाइफ साइंसेज में बीटेक की डिग्री रखने वाले उम्मीदवार नैनो टेक्नोलॉजी में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए आवेदन कर सकते हैं।

M.Sc in Nanotechnology (नैनो टेक्नोलॉजी में एम.एससी)
M.Sc in Nanoscience and Technology (नैनो साइंस और टेक्नोलॉजी में एम.एससी)
M.Tech in Nanotechnology(नैनो टेक्नोलॉजी में एम.टेक)
M.Tech in Material Science and Nanotechnology (मैटेरियल साइंस और नैनो टेक्नोलॉजी में एम.टेक)
M.Tech in Nanotechnology and Nanomaterials (नैनोटेक्नोलॉजी और नैनोमटेरियल्स में एम.टेक)

Doctoral Courses:

Doctor of Philosophy in Nanotechnology (डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी इन नैनोसाइंस एंड टेक्नोलॉजी)
Doctor of Philosophy in Nanoscience and Technology(डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी इन नैनोसाइंस एंड टेक्नोलॉजी ())
Candidates can also opt B.Tech + M.tech in Nanotechnology (Dual degree) – 5 years duration. (उम्मीदवार 5 साल की अवधि – नैनो टेक्नोलॉजी (दोहरी डिग्री) में B.Tech + M.tech भी चुन सकते हैं।)

How to become Nanotechnologist

नैनोटेक्नोलॉजिस्ट कैसे बनें Nanotechnology me career kaise banaye ? दोस्तों आइए जानतें है कि नैनोटेक्नोलॉजिस्ट बनने के लिए स्टेप्स के बारे में।

step.1 साइन्स विषयों के साथ 12वीं कक्षा पूरी करने के बाद इच्छुक उम्मीदवारों को बीएससी/बीटेक (नैनोटेक्नोलॉजी) में प्रवेश लेना होगा । इच्छुक उम्मीदवार को B.Tech (नैनोटेक्नोलॉजी) या संबंधित पाठ्यक्रम प्रदान करने वाले विभिन्न विश्वविद्यालयों द्वारा आयोजित प्रवेश परीक्षा में बैठना पड़ेगा । हालांकि कुछ कॉलेज/विश्वविद्यालय भी क्वालीफाइंग परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के प्रतिशत के आधार पर प्रवेश देते हैं।

Step.2  बैचलर डिग्री कोर्स पूरा करने के बाद उम्मीदवार नैनोटेक्नोलॉजी में एमटेक/एमएससी के 2 साल में प्रवेश प्राप्त कर सकते हैं।

स्टेप. 3  नैनोटेक्नोलॉजी में मास्टर की डिग्री करने के बाद में स्वास्थ्य Health Industry, Agriculture, Environment Industry, Food and Beverages and Space Research आदि में नौकरी की तलाश कर सकते है। आप को बता दें कि फोरेंसिक साइंस जोकि नैनो में प्रगति के कर रहा है इसमें भी जा सकते है। शिक्षा या शोध के क्षेत्र में रुचि रखने वाले संबंधित क्षेत्र में पीएचडी की डिग्री के लिए जा सकते हैं।

Skills Nanotechnologists

  • नैनोटेक्नोलॉजिस्ट के लिए आवश्यक है कि अच्छी इंटरपरशनल स्किल्स, के साथ, चुनौतियों को स्वीकार करने में क्षमता और विश्वास होना चाहिए।
  • नैनोटेक्नोलॉजिस्ट को सिस्टम के लक्ष्यों के सापेक्ष सिस्टम प्रदर्शन और प्रदर्शन में सुधार या सही प्रदर्शन के लिए आवश्यक कार्रवाई के उपायों या संकेतों की पहचान करने में सक्षम होना चाहिए।
  • वे तर्क और तर्क का उपयोग करने के लिए शक्तियों और वैकल्पिक समाधान, निष्कर्ष या समस्याओं के दृष्टिकोण की कमजोरियों की पहचान करने में सक्षम होना चाहिए ।
  • नैनोटेक्नोलॉजिस्ट  दोनों वर्तमान और भविष्य की समस्या को सुलझाने और निर्णय लेने के लिए नई जानकारी के निहितार्थ को समझने में सक्षम होना चाहिए ।

यह भी पढ़ें-

Ceramic Engineer Kaise bane

Metallurgical engineering me career: Courses, Career Scope, Colleges and Salary

Career in Naval Architecture: नेवल आर्किटेक्चर में करियर

Geologist Scientist kaise bane

Job Profile

नैनौ टेक्नोलॉजी की फील्ड में कई करियर प्रोफाइल होते है जिसमें आप करियर बना सकते है आइए जानतें है इनके बारे में

  • एप्लीकेशन इंजीनियर्स/Application engineers
  • डायरेक्टर ऑफ प्रोडक्ट मार्केटिंग/Application engineers
  • मैन्यूफैक्टिंग इंजन/Manufacturing engine
  • डायरेक्टर ऑफ रिसर्चय/Director of research
  • ऑप्टिकल इंजीनियर/Optical engineer
  • प्रोडक्ट मार्केटिंग इंजीनियर/Technical program manager
  • टेक्निकल प्रोग्राम मैनेजर/Product Marketing Manager
  • रिसर्च साइंटिस्ट रिसर्च /Research Scientist Research

specialized industry

नैनौ टेक्नोलॉजी का दायरा बढ़ता रहा है जिससे कि इसके तहत कई फील्ड सामने आ रही है। आइए जानतें है इन फील्ड के बारे में

  • ऑटो और एयरोस्पेस उद्योग/Auto and aerospace industries
  • मेडिकल फील्ड्स और फार्मास्यूटिकल्स फॉरेंसिक/Medical fields and pharmaceuticals
  • इलेक्ट्रॉनिक्स सेमीकंडक्टर इंडस्ट्री/Electronics/semiconductor industry
  • फोरेंसिक/Forensics
  • बायटेक्नोलॉजी/Biotechnology
  • मिलिटरी और राष्ट्रीय सुरक्षा/Military and national security
  • गुणवत्ता नियंत्रण और पैकेजिंग सहित खाद्य विज्ञान/ Food science including quality control and packaging

Salary

नैनोटेक्नोलॉजिस्ट के रुप आप को सैलरी 40,000 से 50,000 रुपये  महीना मिल सकती है। कुछ अनुभव होने के बाद, कोई भी कैडिडेट को प्रति माह 70,000 रुपये और उससे अधिक के रूप में अच्छा कमा सकता है। अगर कोई रिसर्च वर्क के लिए जाता है और उसे कुछ सफलता मिलती है तो उसके काम के लिए उसके लिए आय की कोई कमी नहीं है । अगर आप कुछ हटकर तकनीक को बनाते है तो आप इससे अच्छा आय हो सकती है।

Top institutes and university

  • एसआर.एस विश्वविद्यालय, कांचीपुरम/R.M. University, Kanchipuram
  • भारथियार विश्वविद्यालय, मद्रास/Bharathiar University, Coimbatore
  • मद्रास विश्वविद्यालय, चेन्नई/University of Madras, Chennai
  •  जवहरलाल नेहरू प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, हैदराबाद/ Jawaharlal Nehru University of Technology, Hyderabad
  • पंजाब विश्वविद्यालय, चंडीगढ़/Punjab University, Chandigarh
  • एमिटी इंस्टीट्यूट ऑफ नैनोटेक्नोलॉजी (एआईएनडी), नोएडा/Amity Institute of Nanotechnology (AIND), Noida
  • यूपीअमेरिटा सेंटर्स ऑफ नैनो, केरल/Amrita Centres for Nanosciences, Kerala

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *