Marine Biologist kaise bane: How to become a Marine biologist?

Marine biologist kaise bane

Marine Biologist Kaise Bane- नमास्कार दोस्तों स्वागत है आप इस ब्लाग में आज इस लेख में करियर पीडिया आप के लिए लाया है, मरीन बायोलॉजिस्ट कैसे बने (Marine biologist kaise bane)- क्या आप समुद्र पर समय बिताना पसंद करते हैं? क्या आप समुद्री जीवों पर स्टडी करना चाहते है क्या आप को डॉल्फ़िन और व्हेल में रुचि रखते हैं? क्या आपको कभी गहराई में गोता लगाने और तलाशने की इच्छा हुई है यदि हां तो आप के लिए बेहतर करियर फील्ड इंतजार कर रहा है।

आज के इस लेख में मरीन बॉयोलोजिस्ट कैसे बनें /Marine Biologist Kaise Bane? के तहत मरीन बायोलॉजिस्ट क्या होता है, (What Is a Marine Biologist) वह क्या कार्य करते हैं ( What Does a Marine Biologist Do), Course & Eligibility, Marine Biology Course, Institute & university, Institute & university, Skills, salary career scope, आदि के बारे में.

Marine biologist kaise bane/How to become a Marine biologist?

पृथ्वी के एक बड़ें हिस्सा पर समुद्र फैला हुआ है। समुद्री जीवन के बारे में जानने को लगभग हर कोई एक्साइटिड होता है। आप जरुर जानना चाहते होगें कि समुद्र में जीवन कैसा होता है। वहां चीज़ें कैसे पनपती हैं,  कैसे जीती हैं, क्या बदलाव आ रहें है आदि। समुद्री जीवन के बारे में कार्य करने वाले को कहते हैं समुद्री जीवविज्ञानी या मरीन बायोलॉजिस्ट भी कहा जाता है। मरीन बॉयोलोजिस्ट जिसे समुद्री जीवविज्ञानी सबसे बड़ी व्हेल से लेकर छोटे प्लवक, रोगाणुओं और यहां तक कि समुद्री जल तक की स्टडी  करते हैं।

मरीन बायोलॉजी क्या है/ What is Marine Biology?

मरीन बायोलॉजी का सरल भाषा में अर्थ होता है समुद्री जीव विज्ञान। यह समुद्र में रहने वाले जीव-जंतुओं का (Marine Biologist Kaise Bane) स्टडी है। इसमें समुद्र के अंदर पाए जाने वाले पेड़-पौधों से लेकर बड़े जानवरों के आवास और जीवन पर रिसर्च की जाती है। मरीन बॉयोलोजिस्ट समुद्री प्रजातियों के व्यवहार और शारीरिक प्रक्रियाओं का स्टडी करते है।

यह भी पढ़ें-

Fake Universities in india 2021 in hindi- इन fake universities से रहें सावधान!

Brand Manager Kaise bane/ How to become a Brand Manager?

Information Officer kaise bane:-Information Officer qualification, selection process, salary & more

Statistician kaise bane/How to become statistician?

Dogecoin cryptocurrency kya hai/What is Dogecoin cryptocurrency?

उन्हें प्रभावित करने वाली बीमारियों और पर्यावरणीय परिस्थितियों की जांच करते हैं। मरीन बायोलॉजिस्ट  उथले समुद्रों, गहरे महासागरों और लेवोरेटरी  में काम करते है। वे समुद्री जीवन पर ह्युमन  के इफैक्ट का भी आकलन करते हैं। आने वाले परिवर्तन को समझना और भविष्यवाणी करना है।

यही नहीं कैडिडेट को मरीन बायोलॉजी के साथ-साथ इसमें आपको दूसरी कई चीज़ों के बारे में भी पढ़ने का मौका मिलता है। जैसे- बायोलॉजिकल ओशनोग्राफी, सेल्युलर बायोलॉजी, केमिस्ट्री, इकोलॉजी, जियोलॉजी, मॉलिक्युलर बायोलॉजी और मिटीयॉरोलॉजी। इस फील्ड में स्पेशलाइजेशन करने वाले लोगों को मरीन बायोलॉजिस्ट कहा जाता है। ऐसे कैडिडेंट जिन्हें मरीन लाइफ में रुचि है, तो यह बढ़िया करियर ऑप्शन है।

मरीन बायोलॉजिस्ट क्या करते हैं/ What do Marine Biologists do Work?

एक मरीन बायोलॉजिस्ट को समुद्री जीव विज्ञान का स्टडी करना होता है। वह सिर्फ समुद्र के भीतर रहने वाले जीवों के जीवन और आवास पर ही स्टडी नहीं करते, बल्कि समुद्र के भीतर पेड़−पौधों का भी स्टडी करते हैं। एक मरीन बायोलॉजिस्ट (Marine Biologist Kaise Bane) समुद्री जीव−जंतुओं व पेड़−पौधों के संरक्षण में एक अहम भूमिका निभाते हैं। एक मरीन बायोलॉजिस्ट के ये काम हो सकते है। जैसे-

  • एक मरीन बायोलॉजिस्ट समुद्र में रहने वाले सभी प्रकार के जीव जंतुओं के बारे में गहन स्टडी करना।
  • जो पेड़ पौधे समुद्र के अंदर गहराई में उगे हुए रहते हैं उनके बारे में भी रिसर्च करना और इनफॉरमेशन कलेक्ट करना।
  • समुद्र में जितने भी जीव और पेड़ पौधे रहते हैं उनके रहन-सहन के बारे में पर्याप्त इनफॉरमेशन कलेक्ट करना।
  • विभिन्न प्रकार के रहस्यों के बारे में पता लगाना जो समुद्र के अंदर छिपे हुए हैं। समुद्री जीवों के संरक्षण के ऊपर काम करना।
  • जो बड़े-बड़े जंतु समुद्र में रहते हैं उनके बारे में भी रिसर्च वर्क करना।

Course & Eligibility

आजकल मरीन बायोटेक्नोलॉजी रिसर्च में स्कोप ही स्कोप है। इसमें समुद्री जीवों के रोगों और दवाइयों पर रिसर्च की जाती है। अगर आप इस फील्ड में काम करना चाहते हैं और मरीन बायोलॉजिस्ट बनने के इच्छुक हैं तो इसके लिए आपको सबसे पहले अपनी 12वीं कक्षा साइन्स स्ट्रीम के साथ पास करनी होगी जिसके बाद आपको मरीन बायोलॉजी के विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री लेनी होगी। यहां अगर आप चाहें तो मरीन बायोलॉजी के सब्जेक्ट में पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर सकते हैं लेकिन आप स्नातक के बाद भी इस फील्ड में काम कर सकते हैं।  अगर आप कहीं पर बतौर फैकल्टी पढ़ाना चाहते हैं तो आपके पास इस क्षेत्र में डॉक्टरल डिग्री होनी चाहिए।

बहुत से संस्थान मरीन बायोलॉजी में विभिन्न कोर्स करवाते हैं। वैसे अगर आप चाहें तो बायोलॉजी, जूलॉजी, फिशरीज, ईकोलॉजी और एनिमल साइंस में बैचलर डिग्री प्राप्त करने के बाद कदम बढ़ा सकते हैं। बस आपको समुद्री जीवन से बहुत ही ज्यादा लगाव होना चाहिए ताकि आप सरलतापूर्वक इस फील्ड में काम कर सकें।

Marine Biology Course

मरीन बायोलॉजी में करियर बनाने के लिए ये कोर्स कर सकते है।

Marine Biology CourseEligibilityDuration
Bachelor of Science in Marine BiologyHigher Secondary (10+2) with Science stream3 years
Master of Science in Marine BiologyBachelor’s degree2 Year
Certificate Course in Marine BiologyGraduation6 Months 
Master of Science M.ScBachelor’s degree2 year
Master of Philosophy (M.Phil.) in Marine BiologyMaster’s degree2 year
Doctor of Philosophy (PhD) in Marine BiologyMaster’s degree3 year

Entrance Exam for Marine Biology

  • सीएसआईआर यूजीसी नेट (CSIR UGC NET )
  • एम्स पीजी (AIIMS PG)
  • जेआरएफ (JRF)
  • AURCET

Skills

इस फील्ड में जाने के लिए आप के पास में कुछ जरुरी स्किल्स होनी चाहिए।  जैसे सबसे पहले आपमें समुद्री जीवन व उसके बारे में विस्तार से जानने की गहरी रूचि होनी चाहिए। इसके अलावा आपका शारीरिक व मानसिक तौर पर काफी मजबूत होना जरूरी है। इस क्षेत्र में काम का कोई निश्चित समय नहीं होता और इसलिए आपको इसके लिए भी खुद को मानसिक रूप से तैयार करना चाहिए। इस क्षेत्र में आपके भीतर ऑब्जर्वेशन स्किल भी बेहतरीन होनी चाहिए ताकि आपके द्वारा की गई रिसर्च काम आ सके। इसके अलावा Critical and analytical thinking skills, Physical and emotional stamina और Teamwork जैसी स्किल होनी चाहिए।

Institute & University

                                              Institute & University       Location
भारतीय समुद्री विश्वविद्यालय (Indian Maritime University)Coimbatore
वायुमंडलीय विज्ञान केंद्र (Center for Atmospheric Science)Delhi
राष्ट्रीय समुद्र विज्ञान संस्थान (National Institute of Oceanography)Goa
आंध्र विश्वविद्यालय (Andhra University)Visakhapatnam
मद्रास विश्वविद्यालय (University of Madras)चेन्नई
कोचीन विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (Cochin University of Science and Technology)Kochi
पांडिचेरी विश्वविद्यालय (Pondicherry University)Pondicherry
गोवा विश्वविद्यालय (Goa University)Goa
अन्नामलाई विश्वविद्यालय (Annamalai University)Tamil Nadu
बरहामपुर विश्वविद्यालय (Berhampur University)Odisha
कालीकट विश्वविद्यालय (University of Calicut)Kerala
कर्नाटक विश्वविद्यालय (Karnatak University)Karwar
भारतीदासन विश्वविद्यालय (Bharathidasan University)Tiruchirappalli 

 

Career Scope

मरीन बायोलॉजिस्ट से संबधित कोर्स कर चुकें कैंडिडेट के लिए करियर के बहुत सारे ऑप्शन होते है क्योंकि यह इंडस्ट्री बहुत ज्यादा बड़ी और फैली हुई है। इसलिए योग्य कैंडिडेट समुद्र में काम करने के साथ-साथ म्यूजियमों, चिड़ियाघरों, टीवी चैनलों, स्कूलों व विश्वविद्यालयों में शिक्षक के तौर पर काम कर सकते हैं।  

Salary

इस फील्ड में आपकी सैलरी इस बात पर निर्भर करती है कि आप कहां काम (Marine Biologist Kaise Bane ) करते हैं। शुरू में आप 12,000-18,000 रुपए प्रत्येक महीने तक कमा सकते हैं, जबकि पीएचडी करने के बाद सैलरी 35,000 रुपए या उससे ज्यादा होती है। इसके बाद आपका जितना अनुभव होगा उसी आधार पर यह बढ़ती जाती है। जिससे कैडिडेंड की सैलरी एक लाख रुपए से भी अधिक हर महीने मिल सकती है। 

Career Pedia को उम्मीद है कि इस पोस्ट में दी गई  जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके कोई भी सवाल, सुझाव या इस लेख में कोई त्रुटि रह गई है तो हमे कॉमेंट और Email कर सकते हैं। हमारे You Tube Channel, Facebook page Linkdin page, Instragram और  Telegram channel पर जुड़ सकते है। वहां से करियर जानकारी के पोस्ट व वीडियों के लेटेस्ट नोटिफिकेशन पा सकते है। धन्यवाद !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *