Machine Learning Engineer kaise bane / मशीन लर्निंग इंजीनियर कैसे बनें? 

Machine Learning Engineer kaise bane

Machine Learning Engineer kaise bane: क्या आप का इंजीनियर के क्षेत्र में करियर बनाने का सपना है, क्या आप को टेक्नोलॉजी से प्यार है, और क्या आप Machine Learning में कुछ बेहतर करना चाहतें है तो ये करियर ऑप्सन अच्छा साबित हो सकता है। दोस्तों आज के इस ब्लॉग में हम आपको मशीन लर्निंग (Machine Learning Engineer kaise bane) में करियर कैसे बनाएं इस पर जानकारी देंगे।

सबसे पहले जानतें है आज के इस ब्लॉग में मशीन लर्निंग इंजीनियर कैसे बनें? (Machine Learning Engineer kaise bane) इस करियर ऑप्सन के तहत क्या जानेगें, मशीन लर्निंग इंजीनियर कैसे बनें? ( Machine Learning Engineer kaise bane), मशीन लर्निंग (एमएल) क्या है? (What is Machine Learning ), मशीन लर्निंग इंजीनियर कौन होते हैं ? (Who are Machine Learning Engineers) मशीन लर्निंग इंजीनियर की जिम्मेदारियां क्या हैं, मशीन लर्निंग इंजीनियर का काम ? (Works of Machine Learning Engineer) मशीन लर्निंग इंजीनियर कैसे बनें (Machine Learning Engineer kaise bane),  मशीन लर्निंग इंजीनियरिंग के लिए एंट्रेंस एग्जाम, मशीन लर्निंग इंजीनियर की स्किल्स,Top universities,सैलरी आदि के बारे में जानेंगें।

Machine Learning Engineer kaise bane / मशीन लर्निंग इंजीनियर कैसे बनें?

Machine Learning Engineer kaise bane. अभी तक आप ने मशीन लर्निंग के बारे में जरुर सुना होगा। आज के समय में बड़ा टेक कंपनियों इसका सहारा लें रही है। वर्ना इन कंपनियों लाखों एम्प्लॉई रखने पड़तें है। मशीन लर्निंग इंजीनियरिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का हिस्सा है। उदाहरण के लिए अपना अनुभव से सिख लें भविष्य के लिए बेहतर और बेहतर निर्णय लें सकें।

मशीन लर्निंग तकनीक, कंप्यूटर सिस्टम को बेसिंग खतरनाक से डेटा से ज्ञान प्राप्त करें और भविष्य में बेहतर प्रदर्शन करें। क्या आप मशीन लर्निंग इंजीनियर बनना चाहते है तो Machine Learning Engineer kaise bane / मशीन लर्निंग इंजीनियर कैसे बनें? जानने के लिए हमारा यह ब्लॉग पूरा पढ़ें।

मशीन लर्निंग (एमएल) क्या है/ What is Machine Learning (ML)?

ML कंप्यूटर विज्ञान का एक क्षेत्र है, जिसका उद्देश्य ऐसे प्रोग्राम को डेवलप करना है जो स्पष्ट निर्देशों द्वारा नहीं बल्कि डेटा और पैटर्न से सीखते हुए एक कार्य को पूरा करते हैं। यह मुख्य रूप से एल्गोरिदम और मॉडल प्रदान करता है जो एप्लिकेशन प्रशिक्षण उद्देश्य के लिए उपयोग कर सकते हैं। मशीन लर्निंग क्या है इसके बारे में पूरी जानकारी के लिए इस Machine Learning in Hindi / What is Machine Learning? ब्लॉग को पढ़ सकतें है।

मशीन लर्निंग इंजीनियर कौन होते हैं /Who are Machine Learning Engineers?

मशीन लर्निंग इंजीनियर, आईटी क्षेत्र से संबंधित है जो स्व-चलित कृत्रिम बुद्धि, भविष्य कहनेवाला मॉडल के अनुसंधान, भवन और डिजाइन पर केंद्रित है। मशीन लर्निंग इंजीनियर, मशीन लर्निंग (एमएल) को परिभाषित करने के लिए डिजाइन और बनाने का काम करेंगे। एमएल इंजीनियर, डेटा साइंटिस्ट के लिए एक ब्रिज के रूप में, जो सांख्यिकीय, मॉडल-बिल्डिंग, एआई सिस्टम के निर्माण पर केंद्रित हैं।

मशीन लर्निंग इंजीनियर का काम

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मशीन लर्निंग इंजीनियर का लक्ष्य है।  मशीन लर्निंग इंजिनियर कंप्यूटर प्रोग्रामर हैं, लेकिन उनका ध्यान विशिष्ट कार्यों को करने के लिए विशेष रूप से प्रोग्रामिंग मशीनों से परे जाता है।  वे ऐसे कार्यक्रम बनाते हैं जो उन कार्यों को करने के लिए विशेष रूप से निर्देशित किए बिना मशीनों को कार्रवाई करने में सक्षम बनाएंगे। एक मशीन लर्निंग इंजीनियर जिस सिस्टम पर काम करेगा उसका एक उदाहरण एक सेल्फ ड्राइविंग कार है।

मशीन लर्निंग इंजीनियर की जिम्मेदारियां क्या हैं?

आज के समय में कई कंपनियों इस मशीन लर्निंग का यूज कर रहीं है।  ऐसे में मशीन लर्निंग इंजिनियर की कुछ ज़िम्मेदारियाँ ️होती हैं तो चलिए नजर डालतें है। Machine learning engineer kaise bane में जानेंगे उसकी कुछ महत्वपूर्ण Responsibilities के बारे में..

  • मशीन लर्निंग इंजीनियर को कंप्यूटर विज्ञान के मौलिक एल्गोरिथम, डेटा संरचना और कंप्यूटर आर्किटेक्चर का उपयोग करना है।
  • गणना और संगणना के लिए गणितीय कौशल का उपयोग करना।
  • प्रोग्रामिंग पर आधारित एल्गोरिदम के साथ काम करना।
  • परियोजना के परिणाम तैयार करना ।
  • कोड बनाने के लिए डेटा मॉड्यूल पाइपलाइन और बुनियादी ढांचे का विकास और प्रबंधन करना।
  • विभिन्न सांख्यिकीय मॉडल और प्रक्रिया के आधार पर एल्गोरिदम को बनाना।
  • प्रासंगिक मशीन लर्निंग लाइब्रेरी और एल्गोरिदम को व्यवस्थित करना।
  • संरचित और असंरचित डेटा का विश्लेषण करने के लिए बड़े और जटिल सेट।
  • मशीन लर्निंग सिस्टम डिजाइनिंग।
  • मशीन लर्निंग एल्गोरिदम और उपकरण पर अनुसंधान और कार्यान्वयन करना।
  • सांख्यिकीय विश्लेषण करना और आदि।
  • वेब स्क्रैपिंग टूल बनाकर या उसका उपयोग करके डेटा एकत्र करें।
  •  प्रशिक्षण, परीक्षण और सत्यापन के लिए डेटा सेट तैयार करें।

Machine Learning Engineer kaise bane

अगर मशीन लर्निंग इंजीनियर के तौर पर करियर बनाना चाहतें है। तो 12वीं के बाद मशीन लर्निंग इंजीनियरिंग में डिप्लोमा/यूजी/पीजी/पीएचडी कोर्स कर सकतें है। और आप को प्रोग्रामिंग भाषाओं जैसे कि C ++ या Java आनी चाहिए।

How to become a Machine Learning Engineer Step by step

  • अगर आप डिप्लोमा,बैचलर पाठ्यक्रम में आवेदन करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको 10+2 (विज्ञान स्ट्रीम), कम से कम 50% अंक के साथ पास करना ज़रूरी है।
  • मशीन सीखने वाले इंजीनियरों को काम पर रखने वाले अधिकांश नियोक्ता आवेदकों से एक प्रासंगिक अनुशासन में मास्टर या डॉक्टरेट की डिग्री प्राप्त करने की उम्मीद करते हैं।
  • मशीन लर्निंग इंजीनियरिंग में डिप्लोमा/यूजी/पीजी/पीएचडी कोर्स में प्रवेश लेने के लिए कोर्सेज के अनुसार अलग-अलग योग्यताओं की मांग की जाती है।
  • अगर आप मास्टर्स के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको चार वर्षीय बैचलर  की डिग्री को पास करना ज़रूरी है।
  • अगर आप PhD के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको संबंधित कोर्स में मास्टर डिग्री को पास करना ज़रूरी है।
  • भारत में PhD कोर्स में प्रवेश लेने के लिए आपको UGC-NET, TIFR,JRF-GATE या राज्य स्तरीय राज्य प्रवेश परीक्षाएं पास करनी होंगी।
  • भारत में मशीन लर्निंग इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए आपको JEE Main, JEE Advanced जैसे प्रवेश परीक्षा पास करनी होंगी।
  •  कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में अनुभव की अक्सर आवश्यकता होती है और नियोक्ता आवेदकों से अपेक्षा कर सकते हैं कि उन्हें विशिष्ट कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषाओं का ज्ञान हो, जैसे कि C ++ या Java.

ये भी पढ़ें-

Career in food technology: फूड टेक्नोलॉजी में कैसे बनाए करियर?

CGPA kya hai: Convert CGPA to Percentage in hindi

Lexicographer Kaise Bane; How to become Lexicographer?

CBI Officer Kaise Bane : How to Become a CBI Officer ?

Historian kaise bane; How to become a Historian?

मशीन लर्निंग इंजीनियरिंग के लिए एंट्रेंस एग्जाम

  • JEE Main
  • JEE Advanced
  • UPSEE
  • MHT CET
  • OJEE
  • BCECE
  • Assam CEE
  • KEAM
  • KCET

आवेदन प्रक्रिया

किसी भी कोर्स में प्रवेश लेने के लिए आपको उसकी प्रक्रिया पता होनी चाहिए। देश में Machine learning engineer kaise bane के लिए आपको नीचे बतायी गई प्रक्रिया को चरण-दर-चरण फ़ॉलो करना होगा।

  • रजिस्ट्रेशन : सबसे पहले आपको प्रवेश परीक्षा के लिए अप्लाई करना होगा। छात्र, राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा जैसे JEE-Main या राज्य स्तरीय परीक्षा जैसे KCET या विश्वविद्यालय स्तर की परीक्षा जैसे- UPSEE, MHT CET, OJEE, BCECE, Assam CEE
  • SRMJEEE, VITEEE आदि के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • प्रवेश परीक्षा: प्रवेश परीक्षा के लिए अप्लाई करने के बाद आपको प्रवेश परीक्षा देनी होगी। ये परीक्षाएं ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड में आयोजित की जाती हैं।
  • मेरिट-सूची: प्रवेश परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर छात्रों का विश्लेषण किया जाएगा। शॉर्टलिस्ट किए गए छात्रों की एक मेरिट सूची जारी की जाएगी।
  • काउंसलिंग: शॉर्टलिस्ट किए गए छात्रों को संस्थान द्वारा काउंसलिंग के लिए बुलाया जायेगा, जहां वे अपनी स्टडी की शाखा का चयन करेंगे।

मशीन लर्निंग इंजीनियर की स्किल्स

  • मशीन लर्निंग इंजीनियर को बुनियादी प्रोग्रामिंग भाषा जैसे- C++, Python, Java आनी जरुरी है।
  • प्रायिकता की समझ होनी चाहिए।
  • सांख्यिकीय अवधारणाओं को समझने की क्षमता होनी चाहिए।
  • वितरित कंप्यूटिंग की बुनियादी जानकारी होनी चाहिए।
  • कम से कम एक अद्वितीय उपकरण में कार्य अनुभव होना चाहिए।
  • गणित की अच्छी समझ होनी चाहिए।
  • एल्गोरिथम मॉडल की अच्छी समझ होनी चाहिए।

Top universities

  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), दिल्ली
  • आईआईटी, गुवाहाटी
  • आईआईटी, रुड़की
  • आईआईटी, हैदराबाद
  • आईआईटी, धारवाड़
  • आईआईटी, भुवनेश्वर
  • आईआईटी, गांधीनगर
  • आईआईटी, पटना
  • आईआईटी, मंडी
  • आईआईटी, वाराणसी (बीएचयू)
  • आईआईटी, तिरुपति
  • आईआईटी, धनबाद (आईएसएम)
  • आईआईटी, भिलाई
  • आईआईटी, खड़गपुर
  • आईआईटी, मद्रास
  • आईआईटी कानपुर
  • आईआईटी, इंदौर
  • आईआईटी, पलक्कड़ो
  • आईआईटी, बॉम्बे
  • लखनऊ प्रौद्योगिकी संस्थान, लखनऊ
  • इंडस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, ऊना
  • रूंगटा कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, भिलाई
  • मेडी-कैप्स विश्वविद्यालय, इंदौर
  • विवेकानंद ग्लोबल यूनिवर्सिटी, जयपुर
  • दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, भुवनेश्वर
  • प्रौद्योगिकी संस्थान, निरमा विश्वविद्यालय, अहमदाबाद
  • अखिल भारतीय श्री शिवाजी मेमोरियल सोसाइटी
  • कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, पुणे
  • सविता स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग, चेन्नई

मशीन लर्निंग इंजीनियरिंग में सैलरी

मशीन लर्निंग इंजीनियरिंग के बाद के छात्र को किसी भी इंजीनियरिंग के तुलना में अच्छी सैलरी मिलती है। यह ऩिर्भर करता है देश में या विदेश में नौकरी करता है। वही गूगल, माइक्रोशॉप्ट जैसी कंपनियों मशीन लर्निंग इंजीनियरों को शुरुआती औसत वार्षिक वेतन लगभग रु.7000000/- हो सकता है।

Career Pedia को उम्मीद है कि इस पोस्ट में दी गई  जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके कोई भी सवाल, सुझाव या इस लेख में कोई त्रुटि रह गई है तो हमे कॉमेंट और Email कर सकते हैं। हमारे You Tube Channel, Facebook page Linkdin page, Instragram और  Telegram channel पर जुड़ सकते है। वहां से करियर जानकारी के पोस्ट व वीडियों के लेटेस्ट नोटिफिकेशन पा सकते है। धन्यवाद !!