IOT Developer kaise bane/ Best and high paying career options in 2020

IOT Developer kaise bane

IOT Developer kaise bane: जैसे तकनीक का विकास हो रहा है वैसे ही रोजगार के माध्यम भी खुल रहे है। आज के समय में इंटरनेट ने जिंदगी को एक दम से बदल दिया है। जिससे की रोज-रोज नई डिवाइस बन रही है। विभिन्न प्रकार के इन डिवाइसों में इंटरनेट की Internet of thing (Iot) कनेक्टविटी से जोड़ा जा रहा है। इसका सीधा सा मतलब है कि किसी भी यूजर (IOT Developer kaise bane)की कम समय काम हो सके। इस लेख में आप को career in internet of things पर जानकारी मिलेगी। जिसमें आप को Internet of thing (Iot) क्या है, कोर्स, कोर्स के लिए योग्यता, सैलरी, के बारे में जानकारी देगें।

IOT Developer kaise bane

आज के परिदृश्य में, हमारा दिन इंटरनेट के बिना पूरा नहीं व्यतीत हो पाता है। हर काम के लिए हम तकनीक पर निर्भर हैं। टेक्नोलॉजी दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। आजकल IoT इंटरनेट ऑफ थिंग्स हर किसी के लाइफ में एक साधन बनता जा रहा है। पहले जहां Computer, Mobile और Laptop में इंटरनेट की कनेक्टिविटी मिलती थी, वही अब इस तकनीक का इस्तेमाल सभी गैजेट्स और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को इंटरनेट के माध्यम से आपस में जोड़ने के लिए किया जा रहा है। ऐसे में हम कह सकते है कि रोजमर्रा के लाइफ में प्रयोग की जाने वाली डिवाइस में इंटरनेट को जोड़ा जा रहा है।

इंटरनेट ऑफ थिंग्स की अवधारणा इंटरनेट और प्रौद्योगिकी दुनिया को बदल रही है और हमारे जीवन पर उनका प्रभाव है। नेटवर्क के माध्यम से भौतिक उपकरणों में सेंसर और सॉफ्टवेयर से स्थानांतरित डेटा को IoT कहा जाता है। भविष्य में इन चीजों की इंटरनेट के लिए व्यापक गुंजाइश है।

internet of things एक तेजी से उभरता हुआ करियर क्षेत्र है। पिछले सालों का भातिं देखा जाय तो 2020 में इंटरनेट से संचालिस डिवाइसों को कई कंपनियाे ने वैश्विक (IOT Developer kaise bane) बाजार में लॉन्च किया है। जैसे कि स्मार्ट वॉच, फिटनेस वॉच और यहां तक की स्मार्ट डिवाइसों में इंटरनेट को जोड़ा जा रहा है। स्मार्ट घर में हर अपलांइस को इंटरनेट ऑफ थिंग्स की कनेक्टिविटी से लैस नए गैजेट्स को लॉन्च किया जा रहा है। सबसे रोचक बात यह है कि इन आईओटी डिवाइस को स्टार्ट कंपनियों ने भी शुरुआत की है। ऐसे में इस क्षेत्र में बेहतर करयिर की संभावनाओं के तौर पर देखा जा रहा है।

Internet of things kya hai

iot developer full form- आईओटी (IOT) का पूरा नाम इंटरनेट ऑफ थिंग्स हैं और इस शार्ट रुप में इंटरनेट ऑफ थिंग्स की जगह आईओटी (IOT) कहा जाता है। इस शब्द को केविन एशटन द्वारा पहली बार इस्तेमाल किया गया था और उन्होंने कहा था कि ये एक ऐसी प्रणाली है, जहां इंटरनेट सर्वव्यापक सेंसर के माध्यम से भौतिक दुनिया से जोड़ा जा सकता है। यह अवधारणा बताती है कि कैसे इंटरनेट और प्रौद्योगिकी दुनिया को बदल रही है और हमारे जीवन पर उनका प्रभाव है। नेटवर्क के माध्यम से भौतिक उपकरणों में सेंसर और सॉफ्टवेयर से स्थानांतरित डेटा को IoT कहा जाता है।

इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) भौतिक उपकरणों, वाहनों, घरेलू उपकरणों और अन्य वस्तुओं का नेटवर्क है, जो इलेक्ट्रॉनिक्स, सॉफ्टवेयर, सेंसर, एक्चुएटर्स और कनेक्टिविटी से जुड़ा हुआ है, जो इन वस्तुओं को डेटा को कनेक्ट और एक्सचेंज करने में सक्षम बनाता है। प्रत्येक चीज अपने एम्बेडेड कंप्यूटिंग सिस्टम के माध्यम से विशिष्ट रूप से पहचान योग्य है, लेकिन मौजूदा इंटरनेट बुनियादी ढांचे के भीतर इंटरकनेक्ट करने में सक्षम है।

IoT developer Career Scope

मौजूदा समय में इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) का करियर क्षेत्र बुम पर है। रोज- रोज कंपनिया अपने स्मार्ट आईओटी डिवाइस को लॉन्च कर रही है। ऐसे नए कैडिंडेट के लिए अच्छा मौका साबित हो सकता है। पिछले सालों 2016 से आईओटी उपकरणों का आंकड़ा 31% से बढ़कर 2017 में 8.4 बिलियन हो गया। विशेषज्ञों का अनुमान है कि IoT में 2020 तक लगभग 30 बिलियन ऑब्जेक्ट शामिल होंगे। यह भी अनुमान है कि IoT का वैश्विक बाजार मूल्य 2020 तक $ 7.1 ट्रिलियन तक पहुंच जाएगा।

Also read-Top 5 work from home career options

IoT के क्षेत्र में काम करने के लिए तकनीक का गहन ज्ञान होना आवश्यक है, कंप्यूटर प्रोग्रामिंग और नेटवर्क में बेहतर सुरक्षा का ज्ञान होना आवश्यक है। इसके अलावा सेंसर सॉफ्टवेयर की समझ होना अच्छा है। इनमें बेहतर समझ और सांमज्य स्थापित करने वाले कैडिंडेट के लिए आईओटी में करियर बनाना अच्छा सबित हो सकता है।

Also read-How to Become a Translator/Interpreter

IoT डिवाइस को कई जानी मानी कंपनियों द्वारा उपकरण बनाए जाते हैं। इन कंपनियों की सूची में आईबीएम कंपनी का स्थान पहले नंबर पर हैं। वहीं जो अन्य कंपनियां आईओटी में शामिल हैं वो इस प्रकार हैं- गूगल, इंटेल, माइक्रोसॉफ्ट, एप्पल, सिस्को और सैमसंग। इसके अलावा साल 2020 में कई स्टार्टअप ने भी कदम इस क्षेत्र में रखे है। जोकि इस दिशा में प्रोफेशनल के रोजगार और कुछ कर गुजरने के राहें खोल दी है।

Eligibility Criteria for internet of thing (IOT) Course

इस फील्ड में जानें के लिए कैडिंडेट को मैट्रिकुलेशन 60 प्रतिशत अंकों के साथ सीनियर सेकेंडरी 12th में 70 प्रतिशत के अंक (एग्रीगेट) और न्यूनतम 60 प्रतिशत अंकों के साथ पीसीएम कंप्यूटर साइंस / पीसीबी बायोटेक्नोलॉजी में पास होना चाहिए। इसके अलावा कई यूनीवर्सटी में 10 वीं और 12 वीं के बीच के अंतर न हो इसकी भी मांग की जाती है। मैथ्स में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक के साथ पास होना अनिवार्य है।

डिप्लोमा कोर्स के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार / इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स / इंस्ट्रूमेंटेशन / बायोमेडिकल / कंप्यूटर विज्ञान / सूचना प्रौद्योगिकी में M.E./M.Tech या B.E.B.Tech की डिग्री कंप्लीट कर चुके कैडिंडेट इसमें एडमिशन ले सकते है। बता दे कि यह कोर्स को राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान के द्वारा संचालित किया जाता है और उसी के अनुसार योग्यता की जानकारी है। इसके अलावा इस संथान से इलेक्ट्रॉनिक्स / इंस्ट्रूमेंटेशन / कंप्यूटर साइंस / सूचना प्रौद्योगिकी में M.Sc की डिग्री कंप्लीट कर चुके भी कैंडिडेट प्रवेश ले सकते है।

Course for IOT

Bachelor of Technology in Computer Science (IOT & application)
Post Graduate Diploma in Internet of Things (IoT)

Popular university for internet of things course

देश में कई संस्थान आईओटी से संबधित कोर्स, डिग्री कोर्स, डिप्लोमा कोर्स संचालित करती है। इसके अलावा ऑनलाइन लर्निंग वेबसाइट से भी कोर्स को किया जा सकता है। वही देश में ये कुछ प्रमुख यूनीवर्सटी है जो आईओटी संबधित कोर्स को कराती है।

राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान. दिल्ली
शारदा यूनिवर्सिटी

Job profile in internet of things

IoT में कुछ प्रमुख जॉब प्रोफाइल इस प्रकार है।
सिस्टम डिज़ाइन इंजीनियर (System Design Engineer)
IoT सॉफ्टवेयर डेवलपर (IoT software developer)
IoT प्रोडक्ट मेंनेजर (IoT product manager)
IoT सॉल्यूशन अर्चिटेक्ट (IoT solution Architect)
IoT अनुसंधान डेवलपर (IoT research developer)
FP और A IoT सेवा प्रबंधक (FP&A IoT service manage)

iot developer skills

इसमें दो तरह के स्किल जरूरत होती है व्यक्तिगत और तकनीकी। यह दोनों स्किल इस फील्ड में जाने के लिए वास्तव में महत्वपूर्ण है इस स्किल पर आइए विस्तार से बात करते है।

 PERSONAL SKILLS 

एसोसिएट थिंकर – विभिन्न प्रकार केअनुभवों से आइडिया और फैक्ट जोड़ता है। आपस में काम करने के लिए संतुलन को मजबूत करते हैं जिससे काम कर रहे उस डोमेन में इन टिप्पणियों को यानि कि सुझावों को आगे बढ़ने प्रगति मिलती है।

कोलैबोरेट – जटिल समस्याओं को हल करने के लिए प्रोफेशलन को विभिन्न प्रकार के नॉलेज रखने वाले लोगों को साथ कोलैबोरेट करने की स्किल होनी चाहिए। जिससे साथ में काम कर रहे सक्रिय रूप से दूसरों के नॉलेज या स्ट्रेटजी को एकीकृत करता है। जिससे की बेहतर परिणाम आने का संभावना रहती है।

कम्युनिकेटर – इस फील्ड में जाने के लिए एक कम्युनिकेटर के रुप में राइटिंग, स्पीकिंग, इमेज, स्केच सहित कई माध्यमों से विचारों या अवधारणाओं को प्रभावी ढंग से समझना आनी चाहिए।

Also reads-Data scientist kaise bane: Best carer option in 2020

नॉलेज – इस फील्ड में प्रोफेशनल को व्यापक और गहरी दोनों तरह की विशेषज्ञता रखनी होती है। इसके अलावा इस फील्ड में हर फील्ड की तरह एक दम से रिजल्ट नहीं आते है। ऐसे में आप को लगातार काम को जारी रखना जरुरी है, हालांकि यह कठिन है, लेकिन प्रयास से ही आप के परिणाम आ सकता है।

Technical Skill-

मोबाइल टेक्नोलॉजीज: मोबाइल स्किल महत्वपूर्ण हैं क्योंकि इसमें हर ‘चीज़’ तकनीक पर टिकी है। ऐसा इसलिए की इसमें हर चीज मोबाइल के क्षेत्र से आती है। मोबाइल ऐप डेवलपमेंट में नॉलेज लें जिसमें आप को जावा और एंड्रॉइड की प्रमुख भाषाएं सीखना होगी। तभी आप कोडर्स और प्रोग्रामर पैक आगे चल कर काम कर सकेगें।

डेटा प्रबंधन: बिग डेटा Hadoop और डेटा एनालिटिक्स और क्लाउड कौशल भी महत्वपूर्ण हैं। इसका प्रयोग IoT सेंसर वास्तविक समय में बड़ी मात्रा में डेटा भेजे में किया जाता है।

Also reads-FULL STACK DEVELOPER KAISE BANE: BEST CAREER OPTION IN 2020

एंबेडेड सिस्टम: इस फील्ड में प्रोफेशनल के लिए एम्बेडेड सिस्टम और माइक्रो प्रोसेसर पर काम के नॉलेज का होना भी जरुरी है। इसके अलावा कोड के साथ हार्डवेयर को नियंत्रित करने के लिए प्रोग्रामिंग नॉलेज का होना भी जरुरी है

Job opportunity

सबसे महत्वपूर्ण बात है कोर्स करने के बाद में कैंडिडेट को किस कंपनी में रोजगार का संभावनाए होती है या फिर कहें कि अप्लाई कर सकते है। दुनिया की दिग्गज टेक कंपनियां में ऐसे प्रोफेशनल को हॉयर करती है। जिससे की कंपनी अपने आने प्रोडेक्ट पर काम कर सकें। जैसे कि गूगल, इंटेल, माइक्रोसॉफ्ट, एप्पल, सिस्को और सैमसंग। इसके अलावा कई स्टार्टअप में भी इन प्रोफेशनल के लिए भरसक मौके आ रहे है। विदेश में बात करें तो इनोवेशन का सिलिकॉन वैली को बड़ा केन्द्र माना जाता है। हालांकि भारत में इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण पर काम किया जा रहा है। विशेषज्ञ मानतें है कि आने वाले समय में विदेश में ही नही बल्कि देश में रोजगार की संभावनाएं है।

IoT developer salary in india

सैलरी की बात करें तो यह क्षेत्र एक उभरता हुआ क्षेत्र है। जिससे कंपनियों में अच्छी मिलती है। सबसे अच्छी बात है कि इस फील्ड में दुनिया दिग्गज टेक कंपनियों इस पर काम कर रही है। हालांकि भारत के अपेक्षा प्रोफेशनल को विदेश में ज्यादा सैलरी मिलती है।

IoT developer salary in india

जॉब सर्च वेबसाइट indeed के मुताबिक आईओटी IoT Engineer के लिए भारत में दिए गए इमेज के अनुसार मिलती है। हांलाकि यहां पर यूजर के द्वारा अनौपचारिक रूप से कंपनी ने डाटा के कलेक्ट करके दर्शाया है।

IoT India Salary Study 2017 के अनुसार भारत में IoT प्रोफेशनल का सैलरी आईटी प्रोफेशनल की तुलना में लगभग 76 प्रतिशत अधिक है। जबकि IoT प्रोफेशनल को 15.2 लाख सालाना औसत सैलरी मिलती है। वही आईटी प्रोफेशनल को 8.65 सालाना का पैकेज के आसपास है।

उम्मीद है कि IOT Developer kaise bane ये जानकारी आपको जरुर पसंद आई होगी। यंहा पर मैंने IOT में करियर कैसे बनाएं career option पर जानकारी दी है। अगर आपके कोई भी सवाल या सुझाव हैं तो हमे कॉमेंट कर सकते हैं। हमारे You Tube Channel, Facebook page Linkdin page और Instragram पर जुड़ सकते है। वहां से करियर जानकारी के पोस्ट व वीडियों के लेटेस्ट नोटिफिकेशन पर सकते है। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *