Dogecoin cryptocurrency kya hai/What is Dogecoin cryptocurrency?

Dogecoin cryptocurrency kya hai

Dogecoin cryptocurrency kya hai:- इंटरनेट पर क्रिप्टोकरेंसी की चर्चा जोरों पर है। अमुमन हर कोई आप को क्रिप्टोकरेंसी के बारें में बात करता हुआ मिलेगा। क्योंकि इसके पीछे का कारण है, क्रिप्टोकरेंसी में तेजी से उतार चड़ाव आना, खासकर  डॉजकॉइन क्रिप्टोकरेंसी के मामले में तेजी से उतार चड़ाव देखा गया है। आज के इस लेख में करियर पीडिया आप के लिए लाया है डॉजकॉइन क्रिप्टोकरेंसी पर महत्वपूर्ण  जानकारी के बारे में

What is Dogecoin cryptocurrency/ Dogecoin cryptocurrency kya hai?

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने में लोगों में जबरजस्ट क्रेज देखा जा रहा है और लोगों को इसकी रिटर्न्स पाने के उम्मीद रहती है ।हाल के महीनों में डॉजकॉइन इंटरनेट की पसंदीदा क्रिप्टोकरेंसी रही है। खासकर डॉजकॉइन क्रिप्टोकरेंसी मीम के रुप में काफी वायरल हुई है। नई करेंसी की कीमत में बेतहाशा बढ़त्तोरी देखी गई है। हालांकि इन दिनों डॉजकॉइन (Dogecoin) में उतार चड़ाव देखा जा रहा है।

Dogecoin (dogecoin cryptocurrency kya hai) जिसे हाल के महीनों दिनों में तेजी से चर्चा में बना हुआ है और लोग इसकी रिटर्न्स के बारे में बात कर रहे हैं। सिर्फ एक दिन में 400% तक का रिटर्न यानि की एक दिन में ही आपका पैसा 4 गुना। हालांकि इसे यानि क्रिप्टोकरेंसी को स्थिर रहना काफी मुश्किल देखा जा रहा है और तेजी से उतार चढ़ाव देखा जा रहा है।

क्रिप्टोकरेंसी को लेकर दुनिया के देशों में आने वाली न्यूज पर डिपेंट करता है, Dogecoin  को इतना उपर चढ़ने में कहीं ना कहीं  टेस्ला का मालिक एलोन मस्क का साथ जरुर रहा है उन्होंने क्रिप्टोकरेंसी को लेकर कई ट्वीट किए हैं Dogecoin को लेकर एलोन मस्क कई मीम्स ट्वीट किए है । जिससे Dogecoin (Dogecoin cryptocurrency kya hai) में पिछले महीने जबरजस्त उछाल देखा गया है।

Dogecoin एक वर्चुअल यानी डिजिटल मुद्रा (करेंसी) है। यह  डिजिटल करेंन्सी देशों केन्द्रींय सरकार नियमित के कर्रेंसी से बिलकुल अलग है क्यूंकि Dogecoin को ना ही हम देख सकते हैं ना ही उसे पैसों की तरह छू सकते हैं। हम Dogecoin को सिर्फ ऑनलाइन खरीद और बेच सकते हैं। आप बस इसमें ट्रेड कर सकते है।

हाल ही में चर्चा में आए इस Dogecoin की स्टोरी बहुत ही दिलचस्प है क्यों कि इस क्रिप्टोकरेंसी यानि Dogecoin की शुरुआत एक मजाक के तौर पर हुई थी। Dogecoin भी अन्य दूसरी क्रिप्ट्रोकरैन्सी की तरह ही एक डिजिटल करेंसी है जिसमें आप ट्रेड कर सकते है।

Dogecoin cryptocurrency kya hai?

Type of Cryptocurrency

बिटकॉइन के अलावा दुनिया कई प्रकार के क्रिप्टोकरेंसी चलन में है जैसे कि Ethereum, Litecoin (LTC), डॉगकॉयन Dogecoin (Doge), रिप्पल (Ripple) नियो (Neo), Litecoin, Faircoin (FAIR), Dash (DASH), Peercoin (PPC), Monero (XMR) जैसी क्रिप्टोकरेंसी है हालाकि कुछ क्रिप्टोकरेंसी के बारे में बात की जाती है या यू कहें कि मार्केट कुछ ही क्रिप्टोकरेंसी ने अपनी जगह बना पाई है

 Dogecoin क्रिप्टोकरेंसी की शुरुआत  

क्रिप्टोकरेंसी (dogecoin cryptocurrency kya hai) एक डिजिटल करेंसी होती है, जो ब्लॉकचेन तकनीक पर आधारित है। इस करेंसी में कोडिंग तकनीक का इस्तेमाल होता है। इस तकनीक के जरिए करेंसी के ट्रांजेक्शन का पूरा लेखा-जोखा होता है, जिससे इसे हैक करना बहुत मुश्किल है। यही वजह है कि क्रिप्टोकरेंसी में धोखाधड़ी की संभावना बहुत कम होती है। क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल केंद्रीय बैंक पर निर्भर नहीं होता है, जो कि इसकी सबसे बड़ी खामी है।

Dogecoin की शुरुआत साल 2013 में की गई थी। इस cryptocurrency की शुरुआत करने वाले IBM के दो सॉफ्टवेर इंजिनियर हैं जिन्होंने इस currency को बनाया है। लेकिन बताया जाता है कि इस currency का मालिक कोई भी नहीं है।

माना जा रहा है कि दुनियाभर में करीब 128 अरब से ज्यादा डॉजकॉइन (Dogecoin) सर्कुलेशन में है। इसे महज एक शुरुआत कहा जा रहा है। वर्तमान आंकड़ो पर नजर डाले तो Bitcoin से भी ज्यादा Dogecoin क्रिप्टोकरेंसी में लोगो इसमें इटरेस्ट लें रहें हैं।

Dogecoin क्रिप्टोकरेंसी को बनाने के पीछे भी एक फनी स्टोरी है जो की एक कुत्ते के मीम से संबंधित है और इसी से प्रेरित होकर इस कॉइन को बनाया था। जब इसे बनाया गया तो इसके बाद काफी समय के बाद भी इसका ज्यादा फायदा नहीं हुआ था पर वर्तमान में Dogecoin क्रिप्टोकरेंसी करेंसी के मीम्स काफी पापूलर हो रहे है जिससे Dogecoin क्रिप्टोकरेंसी आसमान छू रही है।

डिजिटल cryptocurrency (dogecoin cryptocurrency kya hai) इसी सोच के आधार पर बनाई जाती है की इस पर किसी सेंट्रल सिस्टम का हक ना हो और न ही किसी प्रकार का अधिकार हो। तो इस हिसाब से हम कह सकते हैं की इस dogecoin पर किसी भी व्यक्ति, कंपनी, या सेंट्रल एजेंसी का अधिकार नहीं है। कोई भी इस cryptocurrency का मालिक नहीं है।

Dogecoin के प्रति सिक्के की वैल्यू में तेजी से उतार चड़ाव आते रहते है कंरेट वैल्यू पता करने के लिए आप cryptocurrency पर अपडेट देने वेली वेबसाइट पर चेक कर सकते है । Dogecoin के बारे में खास बात है कि ये लिमिटलेस क्रिप्टो करेंसी है। आसान शब्दों में कहे तो दुनिया में कितने Dogecoin है इसकी कोई लिमिट नहीं है। अभी तक, लगभग 113 बिलियन डॉगकॉइन का माइन किया जा चुका है और कुछ 127 बिलियन चलन में हैं।

What is the difference between Bitcoin and Dogecoin

दरअसल बिटकॉइन और डोजकॉइन के बीच कई अंतर हैं लेकिन सबसे महत्वपूर्ण अंतर इसकी आपूर्ति का है। डोजकॉइन हर दिन हर मिनट प्रिंट होती है जिसका मतलब हुआ इसे बनाने की को लिमिट नहीं है।

डोगेकोइन  इन्फेलशनरी करेंसी है, एक्सपर्ट्स बताते हैं कि इसका मतलब होता है।  ऐसे में इसे आप ऐसे समझ सकते है कि हर मिनट लगभग 10,000 डोजकॉइन जारी किए जाते हैं जो एक दिन में 1.5 करोड़ और साल में 5 अरब डोजकॉइन के बराबर होता है। डोजकॉइन के साथ यही दिक्कत है। अधिक आपूर्ति इसकी कीमतों पर निगेटिव इफ्कैट डाल सकती है।

वहीं दूसरी तरफ बिटकॉइन के मामले में ऐसा नहीं है Bitcoin को लेकर लिमिट है। इसके 21 मिलियन सिक्के ही हो सकते हैं। इस वजह से   बिटकॉइन कम होने के साथ इसे सोने या हीरे जैसी मेंटल की तरह वैल्युअलव बना देती है Bitcoin वैल्यू सबसे ज्यादा है और सबसे पहले मार्केट में Bitcoin को लाया गया था। ज्यादातर लोग जल्दी फायदा कमाने के लिए डोजकॉइन का कारोबार करते हैं लेकिन लॉन्ग टाइम के लिए निवेशक बिटकॉइन को ही चुनते हैं। लेकिन यह निवेश जोखिम भरा होता है।

Dogecoin के फायदे क्या हैं?

  1. Dogecoin में fraud होने के chances बहुत ही कम है।
  2. ये normal digital payment से ज्यादा secure होते है।
  3. इसमें transaction fees भी बहुत है कम है अगर हम दुसरे payment options की बात करें तब…
  4. इसमें account बहुत ही secure होते हैं क्यूंकि इसमें अलग अलग प्रकार के Cryptography Algorithm का इस्तेमाल किया जाता है।

  Dogecoin के नुकसान क्या हैं?

  1. Dogecoin में एक बार transaction पूर्ण हो जाने पर उसे reverse कर पाना असंभव होता है क्यूंकि इसमें वैसे कोई options ही नहीं होती है।
  2. अगर आपका Wallet के ID खो जाती है तब वो हमेशा के लिए खो जाती है क्यूंकि इसे दुबारा प्राप्त करना संभव नहीं है। ऐसे में आपके जो भी पैसे आपके wallet में होते हैं वो सदा के लिए खो जाते है। जिससे की इसमें निवेश करने में भारी नुकसान उठाना पड़ता है

यह भी पढ़े:-

Video game Journalist kaise bane/ Best career option in 2021

Blockchain technology kya hai

NFT kya hai/What Is NFT?

Zoologist kaise bane/ How to become a zoologist ?

Cryptocurrency kya hai/ What is Cryptocurrency/ जानिए क्रिप्टोकरेंसी के बारें सबकुछ?

 

How to trade this crypto

Dogecoin cryptocurrency kya ha- Coinswitch/WazirX/CoinDCX/Bitbns/Zebpay जैसे जानेमाने क्रिप्टो एक्सचेंज काम कर रहे है. इनके जरिए इसे खरीदा या बेचा जा सकता है। चलिए आप को बताते है कि क्रिप्टो में ट्रेड करने के लिए क्या करना होगा

  • सबसे पहले आप केवाईसी वेरिफाई करने के बाद अपना अकाउंट बनाएं.
  • ऐप पर अपनी बैंक डिटेल/यूपीआई डिटेल डालें.
  • बैंक डिटेल/यूपीआई रजिस्टर्ड होने के बाद एक्सचेंज में मनी एड करें.
  • एक्सचेंज में पैसा जमा होने के बाद आप इसका इस्तेमाल Dogecoin या किसी अन्य क्रिप्टोकरेंसी को खरीदने में कर सकते हैं.
  • वही इसके लिए पूरा गाइड प्लेटफॉर्म के पोर्टल पर मौजूद रहता है.

Career Pedia को उम्मीद है कि इस पोस्ट में दी गई  जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके कोई भी सवाल, सुझाव या इस लेख में कोई त्रुटि रह गई है तो हमे कॉमेंट और Email कर सकते हैं। हमारे You Tube ChannelFacebook page Linkdin pageInstragram और  Telegram channel पर जुड़ सकते है। वहां से करियर जानकारी के पोस्ट व वीडियों के लेटेस्ट नोटिफिकेशन पा सकते है। धन्यवाद !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *