Cartoon artist kaise bane: Best Career Option for Creative People

Archaeologists kaise bane

Cartoon artist kaise bane full detailes: कार्टून इंसान की भावनाओं को व्यक्त करने यानी दिखाने का सबसे अच्छा तरीका है। आज तक ऐसे कार्टूनिस्ट हुए है। जिन्होंने समाज में अपनी अलग ही पहिचान बनाई है। क्या आप भी इसमें करियर बनाना चाहते है तो इस लेख में हम आप को Cartoon artist kaise bane करियर ऑप्सन पर जानकारी देगें।

Cartoon artist kaise bane

माना जाता है कि कार्टून इंसान की भावनाओं को व्यक्त करने यानी दिखाने का सबसे अच्छा तरीका है। जो काफी इंट्रेस्टिंग और हसानेवाले होते हैं। अगर भारत के बात करें तो भारत में कई महान Cartoon artist रहे चुके हैं। दोस्तों एक कार्टून आर्टिस्ट्स किसी भी बात को साफ शब्दों में बयान नहीं करते बल्कि अपनी ड्राइंग्स और कम से कम शब्दों के माध्यम से अपना सन्देश जनता तक पहुंचा देते हैं।

Also read:FULL STACK DEVELOPER KAISE BANE: Best career option in 2020

किसी कामयाब Cartoon artist का कार्टून इतना प्रभावी होता है जिसे देखते है तो आपको हंसी आ जाती है और अगर आप थोड़ा ध्यान दें तो आपको कार्टून आर्टिस्ट का दिया गया मेसेज भी समझ में आ जाता है। कार्टून आर्टिस्ट्स अपनी बात को कुछ इस अंदाज़ से पेश करते हैं कि जिस बात के विरोध में उनका कार्टून होता है वह बात या मुद्दा समझ आने के बावजूद लोगों को बुरा नहीं लगता है। इस तरह, कार्टून आर्टिस्ट्स हमारे समाज और व्यवस्था में फैली हुई विभिन्न बुराइयों, कुरीतियों और/ या कमियों को हमारे सामने बड़ी सहजता से पेश करते हैं।

When cartoon art begin in India

भारत में Cartoon Art की शुरुआत ब्रिटिश काल से मानी जाती है और केशव ‘शंकर पिल्लई’ को भारत की कार्टून आर्ट का जनक माना जाता है। ‘शंकर’ ने 1932 में हिंदुस्तान टाईम्स में अपने कार्टून पब्लिश किये थे। शंकर के बाद धीरे-धीरे भारत में कार्टून आर्ट का प्रचार-प्रसार होने लगा और आजकल भारत के सभी क्षेत्रों और भाषाओं में कार्टून लोगों को प्रभावित कर रहे हैं। भारतीय कार्टूनिस्ट्स को बढ़ावा देने के लिए रजिस्टर्ड ऑर्गनाइजेशन कार्टूनिस्ट्स क्लब ऑफ इंडिया की स्थापना की गई है।

Also read:How to Become a Translator/Interpreter

चाहे वह बच्चे हों या जवान कार्टून सभी को पसंद आता है। लेकिन अगर आपको Cartoon  देखने के साथ कार्टून बनाने का शौक है तो आप अपने इस शौक को करियर बना सकते हैं। जी हां एक कार्टूनिस्ट बनने के लिए आपको किसी भी तरह के महंगे प्रोफेशनल कोर्स को करने की जरुरत नहीं है। आप सिर्फ स्कूल की शिक्षा प्राप्त करने के बाद ही इस फील्ड में अपनी किस्मत आजमा सकते हैं। इसके लिए आपको जनमानस के रुझान तथा उनको प्रभावित करने के लिए बेहतरीन कार्टून बनाने में माहिर होना चाहिए।

Also read:Artificial Intelligence me career kaise banaye

अगर आप देखें तो आज भी छोटे बच्चों को पढ़ाने व समझाने के लिए कार्टून्स का पूरा इस्तेमाल किया जाता है। क्योंकि तस्वीरों और कार्टून्स के जरिए उन्हें जल्दी समझ में आता है। एक रिसर्च में भी यही बताया गया कि छोटे बच्चे नॉन-वर्बल कम्युनिकेशन को काफी अच्छी तरह समझ लेते हैं हालांकि अभी इन बच्चों की किसी भाषा और वोकैबुलरी पर खास पकड़ नहीं होती है। अगर आप भी अपने शौक, पैशन तथा क्रिएटिविटी को अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आप अवश्य ही इस फील्ड में अपना करियर बनायें तथा अपनी मेहनत और टैलेंट के बल पर पैसे और ख्याति हासिल करें।

Eligibility Criteria for becoming a Cartoon Artist in India:

  • इसमें करियर बनाने के लिए सबसे पहले आपको 12 पास होना चाहिए।
  • आप ड्राइंग एंड स्केचिंग में एक्सपर्ट हों।
  • इसके साथ ही फाइन आर्ट्स की टेक्नीकल नॉलेज भी जरूरी है।
  • फाइन आर्ट्स और ड्राइंग की अच्छी समझ हो।
  • आप ऐसे काटूर्न बनाने में एक्सपर्ट हों, जिससे लोग प्रभावित हों यानि कार्टून प्रभावित करने वाले हों।

Top Colleges / Institutes for doing Cartoon Artists course

IIMC, नई दिल्ली
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ कार्टूनिस्ट, बेंगलुरु
दिल्ली कॉलेज ऑफ आर्ट्स, नई दिल्ली
जेजे स्कूल ऑफ आर्ट्स, मुंबई
नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन, अहमदाबाद
भारत में कार्टून आर्टिस्ट के लिए एम्पलॉयमेंट के अवसर

Salary Package for Cartoon Artists

आज के युग में मीडिया के बढ़ते प्रचार प्रसार, विशेष रूप से डिजिटल मीडिया के बढ़ते प्रचलन के कारण Cartoon artist की मांग बहुत ज्यादा है। जो बात हज़ारों शब्दों में कही जा सकती है वही बात एक छोटा कार्टून काफी कम समय में कुछ ही शब्दों में बड़ी आसानी से जाहिर करता है। इसलिए एडवरटाइजिंग में भी कार्टून्स की काफी डिमांड है।

Also read:How to Become a Translator/Interpreter

आजकल हमारे देश में, हर टीवी चैनल, प्रिंट मीडिया, अखबार आदि में टैलेंटेड Cartoon artist के लिए जॉब के काफी अवसर उपलब्ध हैं। ये संस्थान कार्टूनिस्ट्स को काफी  अच्छे पैकेज पर हायर भी करते हैं। सैलरी पैकेज कैंडिडेट की क्रिएटिविटी और वर्क एक्सपीरियंस पर काफी हद तक निर्भर करता है। हमारे देश में शुरू में ये पेशेवर एवरेज 15-20 हजार रुपये प्रति माह कमाते हैं। कुछ वर्षों के बाद आमतौर पर ये पेशेवर 5-6 लाख रुपये सालाना कमाते हैं। वर्ष बीतने के साथ ही इन पेशेवरों का सैलरी पैकेज भी बढ़ता ही जाता है।

इसलिए, अगर आपमें क्रिएटिविटी है और कार्टून देखना, बनाना और उसकी बारीकियों को समझना आपको अच्छा लगता है तो आप अवश्य ही इस फील्ड में अपना करियर शुरू कर सकते हैं और मनचाही सफलता हासिल कर सकते हैं। इसमें कोई दो राय नहीं कि अब भारत में भी कार्टून आर्टिस्ट के लिए करियर के कई सुनहरे अवसर उपलब्ध हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *