5 Books for Young Entrepreneur/अगर बनना चाहते एंटरप्रेन्योर तो जरूर पढ़ें ये 5 बुक!

5 Books for Young Entrepreneur: जब भी बिजनेस करने के बारे में सोचते हैं वैसे ही कई सारी चीजें दिमाग में आ जाती हैं, क्योंकि जाहिर सी बात है कि बिजनेस करना आसान नहीं होता है, बिजनेस करने के लिए बहुत सारी प्लानिंग की जरूरत होती है और खास अनुभव की जरूरत होती है। इसमें आपको कई तरह के स्टेप्स लेने पड़ते हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप उन लोगों से अनुभव और सीख लें, जो इस दौर से गुजर चुके हैं।

5 Books for Young Entrepreneur/अगर बनना चाहते एंटरप्रेन्योर तो जरूर पढ़ें ये 5 बुक!

आपको बता दूं कि भारत में इस समय लगभग 7200 स्टार्टअप्स हैं जिनमें से लगभग 400 स्टार्टअप्स इंटरनेशनल लेवल पर अपना कारोबार कर रहे हैं। और देश-दुनिया में कई लोग इस राह से गुजर कर सफलता प्राप्त कर चुके हैं। और उन्होंने अपने अनुभव को आने वाली पीढ़ी के लिए अपनी किताबों में वर्णित कर दिया है. इन किताबों को पढ़ने से आपको न केवल अपना बिजनेस संभालने की बारीकियों की सीख मिलेगी बल्कि अनजाने रास्ते पर भी निरंतर आगे कैसे बढ़ते रहना है?… इसकी सीख भी आपको मिलेगी. दरअसल, यह एक ऐसी स्थिति है जिसका सामना अक्सर आपको अपने इस ‘नये सफर’ के दौरान करना ही पड़ता है. इसलिये, यहां कुछ ऐसी किताबों का विवरण प्रस्तुत है, जो यंग एंटरप्रेन्योर्स के लिए बहुत फायदेमंद साबित होंगी और इसलिये उन्हें ये किताबें जरुर पढ़नी चाहियें। आइये ऐसी ही कुछ महत्वपूर्ण किताबों के बारे में जानते हैं।

डेल कार्नेगी की किताब ‘हाउ टू विन फ्रेंड्स एंड इन्फुलेंस पीपल’

एक एंटरप्रेन्योर बनने का विचार और अपना बिजनेस शुरू करने का मतलब यह है कि आपको कई नये लोगों से मिलना पड़ेगा। आपको निवेशकों यानी इन्वेस्टर्स से बातचीत करनी होगी और उन्हें अपने आइडियाज के बारे में समझाना होगा। लेकिन अधिकतर यंग एंटरप्रेन्योर्स आजकल कॉलेज छात्र या हाल-फिलहाल के ग्रेजुएट होते हैं और उन्हें बड़े इन्वेस्टर्स या बिजनेस हेड्स से बातचीत करने की काफी कम या न के बराबर जानकारी होती है। यहां पर डेल कार्नेगी की किताब आपके काफी काम आती है। इस किताब में, वे अलग अलग तरह के लोगों से दोस्ती करने के बारे में बताते हैं। वे बताते हैं कि किसी पेशेवर स्थान बनाम अनौपचारिक स्थान में आपको कैसे बातचीत करनी चाहिए? डेल के द्वारा बताये गए टिप्स एवं ट्रिक्स जीवन के हर पहलू में आपकी सहायता करेंगे।

5 Books for Young Entrepreneur

क्रिस गुइल्लेबीयू की किताब ‘दि $ 100 स्टार्टअप’ (The $100 Startup by Chris Guillebeau)

The $100 Startup by Chris Guillebeau- किसी भी यंग एंटरप्रेन्योर  को जो सबसे बड़ी चिंता सताती है वह है अपना बिजनेस शुरू करने के लिए फंड्स या धन की कमी। इसलिये, अधिकांश यंग अपने आइडियाज और सपने छोड़ देते हैं और कोई अच्छी सैलरी वाली जॉब करना शुरू कर देते हैं। वे यह सोचते हैं कि काफी रुपया कमाने के बाद वे नौकरी छोड़कर अपने सपने पूरे करेंगे। लेकिन ऐसा करने के चांस नहीं के बराबर होते हैं, अधिकांश यंग कभी अपना बिजनेस शुरू नहीं कर पाते हैं।

इसका परिणाम यह निकलता है कि आपके एक सफल एंटरप्रेन्योर बनने के सपने धूल में मिल जाते हैं। लेकिन, इस किताब में क्रिस आपको बताते हैं कि निवेशकों के धन के बिना आप अपना बिजनेस कैसे शुरु कर सकते हैं?….. और उस बिजनेस को कायम रख सकते हैं. इस किताब में सफलता की 50 कहानियों का ब्यौरा दिया गया है और ये सभी कहानियां सिर्फ कुछ रुपयों और जुनून से शुरू होकर सफलता के शिखर तक पहुंची।

एंजेला डकवर्थ की किताब ‘ग्रिट’(“Grit” by Angela Duckworth)

“Grit” by Angela Duckworthक्या सभी टैलेंटेड लोग सफल होते हैं?… नहीं, हमारे आस-पास ढेरों उदाहरण इस बात की गवाही देते हैं। लेकिन, ऐसा क्या है जो सफल लोगों को टैलेंटेड लोगों से अलग करता है? एंजेला डकवर्थ के अनुसार, यह क्वालिटी ‘ग्रिट’ है। ग्रिट ही सफल और टैलेंटेड लोगों को एक-दूसरे से अलग करता है।

टैलेंटेड होने का कोई फायदा नहीं जब तक कि आपमें बाधाओं का सामना करने पर दृढ़ता और जुनून की वजह से हार न मानने का जज्बा न हो। एक एंटरप्रेन्योर बनने के आपके निर्णय के साथ ही कई चुनौतियां आपके सामने आती हैं और अगर आप धैर्यवान नहीं हैं तो आप इन चुनौतियों का सामना नहीं कर पायेंगे।

ये भी पढ़ें-

Nuclear Physicist Kaise Bane : Career in Nuclear Physics, become a Nuclear Physicist?

Machine Learning Engineer kaise bane / मशीन लर्निंग इंजीनियर कैसे बनें? 

Career in food technology: फूड टेक्नोलॉजी में कैसे बनाए करियर?

Lexicographer Kaise Bane; How to become Lexicographer?

बिल ग्रीन की किताब ‘ऑल इन’(Bill Green’s book ‘All In’)

Bill Green’s book ‘All In’- हर व्यक्ति अपने मुंह में सोने का चम्मच लेकर पैदा नहीं होता है। बेशुमार लोग ऐसे हैं जिन्होंने झोंपड़ी से महल तक पहुंचने की अपनी कहानी से दुनिया को प्रेरित किया है। आजकल हम जिन सफल एंटरप्रेन्योर्स को जानते हैं, कभी वे क्लर्क्स या दर-दर भटकने वाले सेल्समैन थे। बिल ग्रीन स्वयं इसका अपवाद नहीं हैं।

उन्होंने अपनी इस किताब में, अपने उद्यम में अपनी 100% काबिलियत लगाने के सच्चे अर्थ समझाये हैं. सफलता प्राप्त करने के लिए दृढ़ता और समर्पण के स्तर के बारे में उन्होंने अपने अनुभव भी पाठकों के साथ साझा किये हैं। उन्होंने गुजरे वर्षों में प्राप्त किये अपने अनुभव और सीख का भी अपनी इस किताब में सटीक वर्णन किया है।

टिमोथी फेर्रिस की किताब ‘दि 4 – ऑवर्स वर्कवीक’(The 4 – Hours Workweek by Timothy Ferriss)

The 4 – Hours Workweek by Timothy Ferriss- यह एक आम अवधारणा है कि एक यंग एंटरप्रेन्योर  बनने के सपने के साथ ही ऑफिस में कभी न खत्म होने वाला काम और जागकर रातें बिताने का सिलसिला शुरू हो जाता है। फेर्रिस ने अपनी किताब में इन पुरानी धारणाओं को बदलने की कोशिश की है।

वे बताते हैं कि किस प्रकार यंग एंटरप्रेन्योर्स  अपने समय का अधिकतम सही उपयोग करते हुए प्रत्येक सप्ताह में सिर्फ 4 घंटे काम करके भी एक सफल बिजनेस चला सकते हैं? वे यंगओं को केवल अपने स्टार्टअप में फोकस करने और ऑफिस के बाहर अपनी निजी जिंदगी भूल जाने के बजाय उन्हें अपने जुनून फ़ॉलो करने के लिए प्रेरित करते हैं। लेकिन, यह किताब केवल एक जादुई शरबत नहीं है जो आप एक घूंट में पी जायें और फिर,… अरे वाह! अब आप चमत्कार करने के लिए तैयार हैं। यह किताब आपको केवल कुछ उपयोगी टिप्स और साधन के बारे में जानकारी प्रदान करती है जिनका आप सही इस्तेमाल कर सकते हैं।

ये सभी किताबें एक एंटरप्रेन्योर बनने के किसी न किसी पक्ष के बारे में काफी अच्छी जानकारी देती है, चाहे फिर यह आपके बिजनेस को हैंडल करने की बात हो या फिर, अपनी बातचीत से निवेशकों को लुभाने के टिप्स ही क्यों न हों।

Career Pedia को उम्मीद है कि इस पोस्ट में दी गई  जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आपके कोई भी सवाल, सुझाव या इस लेख में कोई त्रुटि रह गई है तो हमे कॉमेंट और Email कर सकते हैं। हमारे You Tube Channel, Facebook page Linkdin page, Instragram और  Telegram channel पर जुड़ सकते है। वहां से करियर जानकारी के पोस्ट व वीडियों के लेटेस्ट नोटिफिकेशन पा सकते है। धन्यवाद !!