How to make career in Mining engineering

How to make career in Mining engineering

How to make career in Mining engineering Full details: क्या आप इंजीनियरिंग करना चाहते हैं? क्या आपकी भी इच्छा है कि आप इंजीनियरिंग करें। लेकिन आप समझ नहीं पा रहे हैं कि आपको कौन सी ट्रेड लेनी चाहिए। यानी आप इंजीनियरिंग भी करना चाहते हैं लेकिन यह तय नहीं कर पाते हैं कि किस फील्ड का चुनाव करूं। यहीं नहीं आज के समय इंजीनियरिंग करने की इच्छा रखने वाला हर स्टूडेंट यह महसूस करता है। इस लेख में हम बात करेगें कि माइनिंग इंजीनियरिंग Mining engineering के क्षेत्र में कैसे करियर बनाएं।

How to make career in Mining engineering

माइनिंग इंजीनियरिंग, इंजीनियरिंग की वह ब्रांच है जिसमें धरती से प्राकृतिक परिवेश में पर्यावरण के अनुकूल टेक्निक्स अपनाकर विभिन्न मेटल और नॉन मेटल मिनरल्स की तलाश और खनन (माइनिंग) किया जाता है। आसान भाषा में समझे तो धरती से निकलने वाले प्राकृतिक संसाधन के काम को खनन (माइनिंग) कहा जाता है। देश-दुनिया की अलग-अलग माइनिंग कंपनियों और इंस्टीट्यूशन्स के लिए काम करते हैं, और इनसे जुड़कर प्रोफेशनल इन कंपनियों और इंस्टीट्यूशन्स को माइनिंग से जुड़े सारे कामकाज के लिए अपनी टेक्निकल सपोर्ट और एक्सपर्ट ओपिनियन/ सर्विसेज देते हैं।

    Also Read:  How to make career in business analytics

करियर की संभावनाए

दोस्तों हमारे देश में सभी प्राकृतिक संसाधन भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। यहां पर मेटल और नॉन-मेटल मिनरल्स भारी मात्रा में पाए जाते हैं, तकरीबन 90 किस्म के मिनरल्स पाए जाते हैं। आप को बता दें कि भारत की माइनिंग इंडस्ट्री 7 लाख से अधिक लोगों को रोज़गार दे रही हैं और देश के जीडीपी में माइनिंग इंडस्ट्री का कुल योगदान लगभग 2.5 फीसदी है जो लगातार बढ़ रहा है। देश में ऐसे में आप खुद अंदाजा लगा हैं कि माइनिंग इंजीनियर में करियर ग्रोथ/ स्कोप क्या है। आज के समय उनके लिए सबसे बेस्ट इंजीनियरिंग ऑप्शन में माइनिंग इंजीनियर है।

माइनिंग इंजीनियर्स के लिए एजुकेशनल क्वालिफिकेशन और एलिजिबिलिटी

इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स सब्जेक्ट्स के साथ किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड 12वीं पास होना चाहिए, और इसी के साथ मार्क्स या कम से कम 50% अंकों के साथ पास होना चाहिए। स्टूडेंट्स देश के किसी भी कॉलेज या यूनिवर्सिटी से BE/ BTech. और ME/ MTech. कर सकते हैं। देश के मेन एजुकेशनल और इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूशन्स में एडमिशन लेने से पहले स्टूडेंट्स को उड़ीसा JEE/ UG JEE मेन्स/ JEE एडवांस्ड और CET जैसे एंट्रेंस एग्जाम्स पास करने पड़ते हैं।

भारत में प्रमुख इंजीनियरिंग कोर्सेज-

डिप्लोमा – माइनिंग और माइन सर्वेयिंग इंजीनियरिंग, अवधि – 3 साल
BE/ BTech. – माइनिंग इंजीनियरिंग, अवधि – 4 साल
ME/ MTech. – माइनिंग इंजीनियरिंग – अवधि 2 साल

भारत में माइनिंग इंजीनियरिंग से संबद्ध कोर्स करवाने वाले प्रमुख इंस्टीट्यूशन्स इस प्रकार हैं-
भारत के ज्यादातर कॉलेज और यूनिवर्सिटीज़ BE और BTech. जैसे अंडरग्रेजुएट कोर्सेज और ME या MTech. जैसे पोस्ट ग्रेजुएट कोर्सेज करवाते हैं लेकिन अगर हम देश के मेन इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट्स का जिक्र करें तो कुछ सबसे बेहतर हैं जैसे-

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, दिल्ली/ मुंबई/ कानपूर/ खड़गपुर/ गुवाहाटी/ वाराणसी
इंडियन स्कूल ऑफ़ माइंस, धनबाद
नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, रायपुर/ कुरुक्षेत्र
आचार्य इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, बैंगलोर
उड़ीसा स्कूल ऑफ़ माइनिंग, केयोंझर
रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेज, राउरकेला
गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज, गुजरात

माइनिंग इंजीनियरिंग की अलग-अलग फ़ील्ड्स में प्रोफेशनल के जो करियर ऑप्शन्स/जॉब प्रोफाइल्स-

माइनिंग इंजीनियरिंग टेक्नीशियंस
चीफ़ माइनिंग इंजीनियर
माइनिंग इंजीनियर/ माइन प्लानर
माइन सुपरवाइज़र
असिस्टेंट माइनिंग इंजीनियर
माइनिंग इंजीनियर – ग्रेनाइट
रिसर्च इंजीनियर – डाटा माइनिंग
डिप्टी चीफ़ मैकेनिक – मेटल्स एंड माइनिंग
टेक्नीकल कंसलटेंट – माइनिंग
प्लांट मैनेजर

माइनिंग इंजीनियर्स के लिए करियर स्कोप 

माइनिंग इंजीनियरिंग की फील्ड में अपने देश में इन प्रोफेशनल की करियर ग्रोथ के लिए काफी संभावनाएं दिखती हैं। हमारे देश के पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर में माइनिंग इंजीनियर्स के लिए करियर के बेहतरीन अवसर उपलब्ध हैं और इसके साथ ही कुवैत, सऊदी अरब, ब्रिटेन और खाड़ी के देशों में अब माइनिंग इंजीनियर्स के लिए करियर और जॉब के बेहतरीन अवसर हैं।

भारत में माइनिंग इंजीनियर्स को सैलरी पैकेज 

हमारे देश में इस फील्ड में पेशेवरों को अच्छा सैलरी पैकेज मिलता है जैसे कि फ्रेश ग्रेजुएट माइनिंग इंजीनियर्स को अपने करियर के शुरू में 3-4 लाख रूपये सालाना का सैलरी पैकेज ऑफर किया जाता है और कुछ वर्ष के अनुभव के बाद इन पेशेवरों को एवरेज 6 – 8 लाख रूपये सालाना का सैलरी पैकेज मिलता है। अपनी फील्ड में 10 वर्ष या उससे अधिक का वर्क एक्सपीरियंस रखने वाले ये हाईली क्वालिफाइड और टैलेंटेड पेशेवर एवरेज 8 – 10 लाख रूपये सालाना का सैलरी पैकेज या उससे अधिक वेतन भी कमा लेते हैं।

भारत में माइनिंग इंजीनियर्स करें इन टॉप इंस्टीट्यूट्स में अप्लाई

हमारे देश ने माइनिंग की फील्ड में काफी तरक्की की है और माइनिंग इंजीनियर्स भारत के निम्नलिखित टॉप रिक्रुटिंग इंस्टीट्यूशन्स में सूटेबल जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं:
सेल
डीआरडीओ
टाटा स्टील
ओएनजीसी
कोल इंडिया लिमिटेड
जियोलाजिकल सर्वे ऑफ़ इंडिया
आर्कियोलॉजिकल डिपार्टमेंट, भारत सरकार
कोल एंड मिनरल क्वेरीज़
ऑयल इंडिया लिमिटेड
ऑयल एंड नेचुरल गैस एक्सप्लोरेशन फर्म्स
इंडियन ब्यूरो ऑफ़ माइंस
हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड
अडानी माइनिंग प्राइवेट लिमिटेड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *